Close

सिराज पर नस्लीय टिप्पणी को लेकर दुनियाभर के क्रिकेटप्रेमियों में गुस्सा, वीवीएस लक्ष्मण ने इस तरह लगाई लताड़

News

नई दिल्ली: क्रिकेट सभ्य खेल है और इसमें नस्ली टिप्पणियों की कोई जगह नहीं है, लेकिन कई बार दर्शक अपनी हदों को पार करते हुए स्टेडियम में खिलाड़ियों पर फब्तियां कसते देखे सुने जाते हैं. भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रहे सिडनी टेस्ट के दौरान भी कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला, जब रविवार को सिराज दूसरे सत्र के खेल के दौरान बाउंड्री के पास तैनात थे, तभी किसी दर्शक ने उन्हें लेकर टिप्पणी की. सिराज तुरंत कप्तान अजिंक्य रहाणे के पास पहुंचे और उन्हें इसकी जानकारी दी. 

टीम के कप्तान अजिंक्य रहाणे भी सुरक्षा अधिकारियों से बातें करते हुए नजर आए. आस्ट्रेलियाई अखबार द डेली टेलीग्राफ की रिपोर्ट के मुताबिक, “यह पता चला है कि भारतीय अधिकारियों ने कहा है कि बुमराह और सिराज पर दर्शकों द्वारा बीते दो दिन से फब्तियां कसी जा रही हैं जो नस्लीय हैं. हालांकि घटना पर बीसीसीआई ने भी अपना विरोध दर्ज करा दिया है. 

वहीं, सिराज पर दर्शक द्वारा नस्लीय टिप्पणी मामले में टेस्ट क्रिकेट के महान खिलाड़ी वीवीएस लक्ष्मण का बयान सामने आया है. लक्ष्मण ने कहा, यह देखना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में क्या हो रहा है. इस खराब बात के लिए क्रिकेट में कोई जगह नहीं है. खेल के मैदान पर खिलाड़ियों के साथ दुर्व्यवहार करने की आवश्यकता को कभी नहीं समझा जा सकता. यदि आप खेल को देखने के लिए यहां नहीं आए हैं और खिलाड़ियों का सम्मान नहीं कर सकते, तो कृपया न आएं और माहौल को खराब न करें.

स्पोर्ट‌स जर्नलिस्ट सेम लेंड्सबर्गर ने टवीट किया, मोहम्मद सिराज के पिता का निधन नवंबर में फेफड़ों की स्थिति से हो गया था. सिराज इस दौरे पर रहने की वजह से अंतिम संस्कार से चूक गए और बॉक्सिंग डे पर टेस्ट डेब्यू के लिए टूट गए. एक स्मारकीय बलिदान और सिडनी में जातिवाद द्वारा उस उपलब्धि को हासिल करना इतना निराशाजनक होगा, यह नहीं सोचा गया था. 

मामले की गम्भीरता को देखते हुए कप्तान ने अम्पायर पॉल राफेल को इस बारे में बताया. पॉल ने बिना देरी किए मैच रेफरी को इसकी जानकारी दी और फिर मैच रेफरी ने सुरक्षा अधिकारियो को बताया कि स्टैंड से किसी सिराज के खिलाफ भद्दी टिप्पणी की है. सुरक्षाकर्मियों ने उस स्थान का मुआयना किया, जहां से सिराज के अनुसार आवाज आई थी. कई लोगों से पूछताछ की गई और फिर चार-पांच लोगों को लेकर पुलिस स्टैंड से बाहर चली गई. 

इस तरह पकड़ा गया आरोपी 

इस घटना के कारण लगभग 10 मिनट तक खेल रुका रहा. इससे पहले, शनिवार को भारतीय क्रिकेट टीम के अधिकारियों ने शिकायत की थी कि सिराज और जसप्रीत बुमराह पर दर्शकों ने नस्लीय टिप्पणी की है. तीसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद आईसीसी, स्टेडियम के सुरक्षा अधिकारी बुमराह और सिराज के साथ लंबी बातचीत करते हुए नजर आए और इस दौरान भारतीय टीम प्रबंधन के सदस्य भी उनके साथ थे.



न्यूज़24 हिन्दी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top