Close

Video: अपने खेत में पहुंचकर महेंद्र सिंह धोनी ने चखी स्ट्रॉबेरी, जानिए फिर क्या बोले माही

News

नई दिल्ली: टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) इन दिनों ऑर्गेनिक फार्मिंग का बिजनेस कर रहे हैं. धोनी के फार्म में गोभी, टमाटर और स्ट्रॉबेरी उगाए जाते हैं. गोभी और टमाटर  तो बाजार में पहुंच गए हैं, लेकिन स्ट्रॉबेरी और मशरूम पहुंचना बाकी है. कभी टीम का मैदान पर हौसला बढ़ाने वाले धोनी अक्सर खेत खलिहानों में नजर आते हैं. 

हाल ही धोनी दुबई से छुट्टियां मनाकर भारत लौटे हैं. धोनी जैसे ही रांची पहुंचे, उन्हें अपने फार्म में लगीं स्ट्रॉबेरी की याद आ गई. वे बिना देर किए परिवार के साथ अपने फॉर्म हाउस पर पहुंच गए. यहां उन्होंने पौधे से ताजा स्ट्रॉबेरी निकाली और इसका स्वाद चखा. धोनी ने इस वीडियो को इंस्टाग्राम पर शेयर किया है. जिसके बाद इस वीडियो को खूब पसंद किया जा रहा है. उन्हाेंने स्ट्रॉबेरी का स्वाद चखकर लिखा, अगर मैं ऐसे ही खेत में आता रहा और खाता रहा तो मार्केट के लिए एक भी स्ट्रॉबेरी नहीं बचेंगी.’ 

वीडियो में देखा जा सकता है कि धोनी स्ट्रॉबेरी के पौधों के पास खड़े हैं. वो पौधे से स्ट्रॉबेरी तोड़ते हैं और खा लेते हैं. यह वीडियो उन्होंने खुद बनाया था. आईपीएल खेलने के बाद एमएस धोनी दुबई में ही रुक गए थे और उनका परिवार भी वहां पहुंच गया था. धोनी ने पत्नी साक्षी का भी बर्थडे उन्होंने वहीं मनाया था. 

 

ऐसे कर रहे हैं बिजनेस 

माही (Mahi) ने ऑर्गेनिक फार्मिंग के साथ ही गाय के दूध और मध्यप्रदेश के कड़कनाथ मुर्गे की फार्मिंग का भी बिजनेस शुरू किया है.

धोनी के पास रांची में 55 एकड़ जमीन है. उनके फार्मिंग (Dhoni Farming), प्रोडक्शन और सप्लाई चेन नेटवर्क से 150 लोग जुड़े हैं. फिलहाल 55 एकड़ की इस जमीन पर टमाटर, गोभी उगाई जाती है. इस पर मशरूम, स्ट्रॉबेरी की भी खेती की जा रही है. धोनी ने हाल ही कड़कनाथ मुर्गे की फार्मिंग भी शुरू की है. इसके लिए उन्होंने मध्यप्रदेश से मुर्गे मंगाए हैं. धोनी ने इस सबकी शुरुआत लगभग 8 महीने पहले ही की है. फिलहाल रांची के बाजारों में धोनी के ‘ईजा’ फार्म ब्रांड नाम से सब्जियां, दूध बेचा जाता है. 

धोनी के इस बिजनेस की मार्केटिंग सुमन यादव देखती हैं. उनके सप्लाई चेन से जुड़े शिवनंदन यादव बताते हैं, आर्गेनिक फार्मिंग से रोजाना 200 किलो टमाटर, 100 से 150 किलो रोजाना फूलगोभी तैयार हो रही है. ब्रोकली और स्ट्रॉबरी भी तैयार हो जाएगा. इसके साथ ही शुद्ध गाय का दूध भी सप्लाई किया जाता है. रोजाना 300 से 350 प्रतिदिन दूध निकाला जाता है. इसकी महज 55 रुपए में फ्री होम डिलिवरी भी की जाती है. धोनी के पास फ्रांस और भारत नस्ल की गाय हैं.

शिवनंदन बताते हैं, धोनी कभी कभी फार्म में आते हैं और हमें उसी तरह प्रोत्साहित करते हैं, जैसे मैदान पर वह टीम इंडिया को करते थे. शिवनंदन चार महीने पहले धोनी के सहयोगी डॉक्टर के जरिए मिले थे. उन्होंने बताया, पहले हम भी दूध का बिजनेस करते थे, लेकिन कुछ दिन बाद ही इसे बंद कर दिया. डॉक्टर साहब ने जब पूछा कि धोनी सर के लिए काम करोगे, तो हम उन्हें मना नहीं कर पाए. माही तो रांची के दिल में बसे हैं, इसलिए हमने पहली ही बार में हां कर दी. 



न्यूज़24 हिन्दी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top