News
भारत

Video: ‘पसंद के अस्पताल के लिए जिद न करें, आपको बेड जरूर मिलेगा’, दिल्ली में कर्फ्यू की घोषणा के बाद सीएम केजरीवाल का बड़ा बयान

नई दिल्ली: नई दिल्ली में वीकेंड कर्फ्यू की घोषणा के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि दिल्ली की विषम परिस्थितियों के बावजूद अस्पतालों का प्रबंधन नियंत्रण में है.

ट्विटर पर एक वीडियो साझा कर केजरीवाल ने कहा कि “दिल्ली में बेड्स की कमी नहीं है. ताजा आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली में इस समय पांच हजार से ज्यादा बेड खाली हैं.” हालांकि इस मौके केजरीवाल ने लोगों से कुछ मामलों में समझौता करने की अपील की है.

उन्होंने कहा है कि “इस मुश्किल घड़ी में अपनी पसंद के अस्पताल में बेड उपलब्ध कराने की जिद न करें. इस महामारी में हमारी प्राथमिकता जो भी व्यक्ति बीमार हो रहा है, उसे कहीं न कहीं, उसकी जान बचाने के लिए उसे दिल्ली में कहीं न कहीं बेड मिलना चाहिए. चाहे वो सरकारी हो या प्राइवेट अस्पताल. और प्राइवेट में भी चाहे इस अस्पताल में हो या उस अस्पताल में.

लोगों को इस मुश्किल घड़ी में आश्वस्त करते हुए केजरीवाल ने कहा कि “मुख्यमंत्री होने के नाते मैं आश्वस्त करता हूं कि हमारे पास पांच हजार बेड उपलब्ध हैं. हम और बड़े स्तर पर ऑक्सीजन बेड बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं. ताकि लोगों को सही समय पर इलाज मिल सके.

बता दें कि गुरुवार को ही सीएम अरविंद केजरीवाल ने कोरोना की चेन तोड़ने के लिए दिल्ली में वीकेंड कर्फ्यू लगाने का ऐलान किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी. दिल्ली सरकार आवश्यक सेवाओं से संबंधित लोगों को बिना परेशानी के जल्द से जल्द कर्फ्यू पास जारी करेगी. 

वीकेंड पर माॅल्स, जिम, स्पाॅ, आडिटोरियम भी  पूरी तरह से वीकेंड पर बंद रहेंगे. सिनेमा हाॅल 30 फीसद क्षमता के साथ खुल सकते हैं. वहीं, एक सप्ताहिक मार्केट को प्रतिदिन, प्रति जोन के हिसाब से अनुमति दी जाएगी और रेस्टोरेंट से सिर्फ होम डिलीवरी की अनुमति होगी.

केजरीवाल ने कहा, इस समय प्रतिबंध लगाना बहुत जरूरी है, मुझे उम्मीद है कि सभी लोग कोरोना के खिलाफ लड़ाई में सरकार का साथ देंगे. मार्केट और सार्वजनिक स्थानों पर सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाने के निर्देशों का पालन कराने के लिए सख्त कार्रवाई की जाएगी. 

सीएम ने कहा, हर मरीज को अस्पताल में बेड उपलब्ध कराया जाएगा, लेकिन किसी विशेष अस्पताल में जाने पर जोर न दें. दिल्ली में अभी भी 5 हजार से अधिक बेड उपलब्ध हैं, अभी और बेड बढ़ाए जा रहे हैं. 

ऐसा होगा वीकेंड कर्फ्यू

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना से संक्रमित दिल्ली में रहने प्रत्येक व्यक्ति को दिल्ली के किसी न किसी अस्पताल में बेड मिलना चाहिए, चाहे वह सरकारी अस्पताल में मिले या फिर प्राइवेट अस्पताल में बेड मिले. सीएम ने दिल्ली के लोगों से अपील करते हुए कहा कि आप इस पर जोर न दीजिए कि मेरे को इसी अस्पताल में जाना है, यह हमारे लिए मुश्किल होगा. आपका मुख्यमंत्री होने के नाते मैं आपको यह आश्वस्त कर रहा हूं कि अभी दिल्ली के अंदर कोविड बेड की कमी नहीं है. 

सीएम अरविंद केजरीवाल ने मीडिया से निवेदन करते हुए कहा कि जब आप यह दिखाते हैं कि इन-इन अस्पतालों के अंदर बेड खत्म हो गए, तो यह हो सकता है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि दिल्ली के अंदर इस समय बेड की समस्या हो गई है. 

दिल्ली में इस वक्त भी 5 हजार से ज्यादा बेड उपलब्ध हैं. आज मेरी सुबह से कई बैठकें हो चुकी हैं. हम और भी बड़े स्तर पर बेड बढ़ाने के प्रयास कर रहे हैं. ऑक्सीजन बेड भी बढ़ाने के प्रयास कर रहे हैं, ताकि दिल्ली में और ज्यादा बेड की क्षमता बढ़ाई जा सके, जिससे कि लोगों को समय पर सही इलाज मिल सके. 

मुख्यमंत्री ने कहा कि जैसा हम देख रहे हैं कि रोज कोरोना के केस बढ़ते जा रहे हैं. इस स्थिति को नियंत्रित करने के लिए दिल्ली सरकार ने कुछ निर्णय लिए हैं. आज एलजी साहब के साथ बैठक हुई थी और सबने मिलकर यह निर्णय लिए हैं कि वीकेंड पर दिल्ली के अंदर कर्फ्यू लगाया जाएगा. इसका कारण यह है कि वर्किंग डेज (कार्य दिवस) के दौरान लोगों को अपने काम पर जाना पड़ता है, लेकिन वीकेंड पर जो लोग घर से बाहर निकलते हैं, उनमें ज्यादातर लोग मनोरंजन या दूसरी गतिविधियों के लिए निकलते हैं, जो रोकी जा सकती हैं. 

इन गतिविधियों पर अंकुश लगाया जा सकता है. इस पर अंकुश लगाने से बहुत ज्यादा लोगों को दिक्कत नहीं होनी चाहिए. इसीलिए कोरोना की चेन तोड़ने के लिए वीकेंड पर कर्फ्यू लगाया जा रहा है, ताकि ज्यादा लोग एक-दूसरे के संपर्क में न आएं. 

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस कर्फ्यू की वजह से जो आवश्यक सेवाएं हैं, वह बाधित नहीं होंगी. मसलन, किसी को अस्पताल जाना है, एयरपोर्ट जाना है या रेलवे स्टेशन जाना है. साथ ही, यह शादियों का सीजन है. कई लोगों की पहले से ही शादी की तारीख तय हो चुकी है और सब तैयारियां हो चुकी हैं. 

हम नहीं चाहते हैं कि उनको किसी तरह की तकलीफ हो, ऐसे लोगों को, जो आवश्यक सेवाओं से संबंधित हैं, खासकर जो शादियां हैं, उनको हम कर्फ्यू पास देकर उनके अवागमन की अनुमति देंगे. आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोग कर्फ्यू पास के लिए आवेदन कर सकते हैं और हम उनको जल्द से जल्द बिना किसी परेशानी के कर्फ्यू पास देंगे. 

सीएम ने आगे कहा कि माॅल्स, जिम, स्पाॅ और ऑडिटोरियम को फिलहाल बंद करने के निर्देश दिए जा रहे हैं. सिनेमा हॉल 30 फीसद की क्षमता पर चल सकते हैं. एक सप्ताहिक मार्केट को प्रतिदिन, प्रति जोन के हिसाब से अनुमति दी जाएगी और साप्ताहिक मार्केट में ज्यादा भीड़ न हो, इसके लिए भी कुछ विशेष इंतजाम किए जा रहे हैं, जिसके लिए आज आदेश जारी कर दिए जाएंगे. रेस्टोरेंट में अब बैठकर खाने की इजाजत नहीं होगी, वहां से केवल होम डिलीवरी की अनुमति रहेगी. 

सभी मार्केट के अंदर, सार्वजनिक स्थानों पर कोविड प्रोटोकाल का उल्लंघन करने वालों पर की जा रही कार्रवाई को और ज्यादा सख्त किया जाएगा, ताकि सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाने के दिशा निर्देशों को लागू किया जा सके, जिससे कि सभी लोग मास्क पहनें. अभी हम देख रहे हैं कि कई सारे लोग बिना मास्क के घूम रहे हैं, जो दूसरों की सेहत के लिए नुकसान दायक हो सकता है. यह सारे प्रतिबंध हम आपके स्वास्थ्य के लिए लगा रहे हैं, आपके परिवार के स्वास्थ्य के लिए लगा रहे हैं, आपकी सेहत और आपकी जिंदगी के लिए लगा रहे हैं. 

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं समझ सकता हूं कि इन प्रतिबंधों की वजह से आपको बहुत तकलीफ होगी, लेकिन आप यह भी समझ रहे होंगे और आप मेरा और दिल्ली सरकार का पूरा साथ देंगे कि यह प्रतिबंध इस वक्त लगाना बहुत जरूरी है. मैं आप सब से इन सभी प्रतिबंधों का पालन करने के लिए हाथ जोड़कर सहयोग की अपील करता हूं. मैं उम्मीद करता हूं कि यह जो कोरोना की चौथी लहर आई है, इस चौथी लहर को भी हम सब दिल्ली वाले मिलकर पहले जो तीन लहर आई थी, उसी तरह से हम नियंत्रित करने जरूर सफल होंगे और जल्द सफल होंगे, ताकि हम लोगों को इससे भी जल्दी मुक्ति मिल सके.



न्यूज़24 हिन्दी

You might also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *