Close

राष्ट्रपति के अभिभाषण के साथ बजट सत्र की शुरुआत, कहा- कोई भी चुनौती भारत को नहीं रोक सकती

News

नई दिल्‍ली: राष्ट्रपति के अभिभाषण के साथ बजट सत्र की शुरुआत हो गई है. सदन में अपने भाषण के दौरान राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि कोरोना महामारी के बीच संसद का संयुक्त सत्र आवश्यक है. यह एक नया साल है और एक नया दशक है और हम आजादी के 75वें वर्ष में प्रवेश कर रहे हैं. आज सभी सांसद विश्वास के साथ यहां मौजूद हैं, जिससे यह संदेश जाता है कि कठिन चुनौती ना तो हमें और ना ही भारत को बंद कर सकती है.

राष्‍ट्रपति ने कहा, ‘महामारी के खिलाफ इस लड़ाई में हमने अनेक देशवासियों को असमय खोया. हम सभी के प्रिय और मेरे पूर्ववर्ती राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का निधन भी कोरोना काल में हुआ. संसद के 6 सदस्य भी कोरोना की वजह से असमय हमें छोड़कर चले गए. मैं सभी के प्रति विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं.’ उन्‍होंने कहा, ‘मुझे संतोष है कि मेरी सरकार के समय पर लिए गए सटीक फैसलों से लाखों देशवासियों का जीवन बचा है. आज देश में कोरोना के नए मरीजों की संख्या भी तेजी से घट रही है और जो संक्रमण से ठीक हो चुके हैं उनकी संख्या भी बहुत अधिक है.’

‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना’ का जिक्र करते हुए राष्‍ट्रपति ने कहा, ‘इसके माध्यम से 8 महीनों तक 80 करोड़ लोगों को 5 किलो प्रतिमाह अतिरिक्त अनाज निशुल्क सुनिश्चित किया गया. करीब 31 हज़ार करोड़ रुपए गरीब महिलाओं के जनधन खातों में सीधे ट्रांसफर भी किए.’ उन्‍होंने कहा, ‘हमारे लिए गर्व की बात है कि आज भारत दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान चला रहा है. इस प्रोग्राम की दोनों वैक्सीन भारत में निर्मित हैं. संकट के समय में भारत ने मानवता के प्रति अपने दायित्व का निर्वहन करते हुए अनेक देशों को कोरोना वैक्सीन की लाखों खुराक उपलब्ध कराई हैं.’

19 विपक्षी दलों ने किया राष्ट्रपति के अभिभाषण का बहिष्‍कार

आज से बजट सत्र शुरू हो रहा है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण के बाद बजट सत्र शुरू हो गया, लेकिन कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों के प्रति एकजुटता दिखाने के लिए कांग्रेस समेत 19 विपक्षी दलों ने राष्ट्रपति के अभिभाषण का बहिष्कार किया है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण से पहले सरकार ने विपक्ष दलों को मनाने की कोशिश की. सरकार ने सभी विपक्षी दलों से कहा है कि वो अभिभाषण का बहिष्कार न करें, सभी मुद्दों पर सर्वदलीय बैठक के दौरान चर्चा की जाएगी.

बता दें कि एक फरवरी को संसद में वित्त वर्ष 2021-22 का आम बजट पेश किया जाएगा. दो हिस्सों में चलने वाला बजट सत्र 8 अप्रैल तक चलेगा. बजट सत्र पहला चरण आज से 15 फरवरी तक चलेगा जबकि दूसरा हिस्सा 8 मार्च से 8 अप्रैल तक चलेगा.

वहीं किसान आंदोलन के बहाने कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक बार फिर केंद्र सरकार और पीएम मोदी पर निशाना साधा है. राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि पीएम हमारे किसान-मज़दूर पर वार करके भारत को कमज़ोर कर रहे हैं. फ़ायदा सिर्फ़ देश-विरोधी ताक़तों का होगा.



न्यूज़24 हिन्दी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top