मध्यप्रदेश में तेजी से बढ़ रहा कोरोना, शिवराज सरकार ले सकती है ये एक्शन, जानें क्या बन रही योजना

News

भोपाल. मध्य प्रदेश में एक बार फिर कोरोना के बढ़ते केस ने चिंताजनक माहौल बना दिया है. बीते 24 घंटे के दौरान यहां कोरोना के 603 नए पॉजिटिव केस मिले हैं, जो बीते दो महीनों में सबसे ज्यादा हैं. पॉजिटिव केस का आंकड़ा भी बढ़कर 4.1 फीसदी तक पहुंच गया है. 

शनिवार को इंदौर में सबसे ज्यादा 219 मामले सामने आए हैं. वहीं भोपाल में 138 मामले मिले हैं. मध्यप्रदेश में एक्टिव कोरोना केस की संख्या भी बढ़कर 4,335 तक पहुंच गई है. इधर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बढ़ते कोरोना केस पर चिंता जताई है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा-  ”कोरोना का संकट लगातार प्रदेश में बढ़ रहा है. इंदौर और भोपाल हमारी चिंता का विषय हैं. 

हमारी महाराष्ट्र की सीमा से लगे जो जिले हैं, उनमें भी संक्रमण बढ़ा है और अब जरूरत इस बात की है कि पूरा प्रदेश एक बार फिर से मिलकर एक साथ खड़ा हो. हम सारे कोरोना के संक्रमण को रोकने वाले उपाय शुरू करें. कल गृह विभाग ने कुछ निर्देश जारी किए हैं, क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक हो रही है. इंदौर और भोपाल में हॉल में जो पूरी क्षमता है उससे 50% से ज्यादा लोग ना आएं. 

दुकानों का समय तय करने पर हो रहा विचार

 मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा- ‘हमने इस पर भी विचार शुरू कर दिया है कि रात में दुकानें कब तक खुलें. जो दुकानदार दुकान चला रहे हैं वह दुकान चलाएं लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना गाइडलाइंस का उनको पालन करना होगा. मास्क जरूरी है क्योंकि लापरवाही जानलेवा हो सकती है. मास्क को लेकर सख्ती भी होगी. 

जनता को अब ऐसा लग रहा है कि ज्यादा फिक्र करने की जरूरत नहीं है, लेकिन यह बेफिक्री हमारे लिए खतरनाक हो सकती है, इसलिए जितने भी जरूरी उपाय हैं वह करें. महाराष्ट्र की सीमा से जो जिले लगे हैं वहां ट्रकों का आवागमन निर्बाध रूप से जारी रहेगा. लेकिन बाकी जो आएंगे उनका टेंपरेचर चेक होगा और कोरोना प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा.’



न्यूज़24 हिन्दी