Close

Rajasthan News: 18 हजार अधिक स्वयंसेवक वैक्सीनेशन के लिए प्रशिक्षित, राजस्थान सरकार ने बताया ये प्लान

News

नई दिल्लीः भारत में कोरोना महामारी की रफ्तार धीमी जरूर हुई है, लेकिन खतरा अभी बरकरार है, जिसे रोकने के लिए सरकार ने दो-दो वैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है. 16 जनवरी से देशभर में कोरोना को खत्म करने के लिए वैक्सीनेशन शुरू हो जाएगा, जिसके लिए तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. वहीं राजस्थान के चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने रविवार को कहा कि कोरोना वैक्सीन का पूरा देश  बेसब्री से इंतज़ार कर रहा, जो अब खत्म हो गया है. 

स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने भी मीडिया वार्ता में इस संबंध में जानकारी दे दी है. रघु शर्मा ने मीडिया को जानकारी देते हुए कहा कि राज्य में कोविड वैक्सीनेशन का ड्राई रन 02 जनवरी 2021 को सात जिलो में 18 सत्र स्थलों पर सफलतापर्वूक किया जा चुका है. साथ ही दूसरे चरण में कोविड वैक्सीनेशन का ड्राई रन 08 जनवरी 2021 को सभी 34 जिलों में 103 सत्र स्थलों पर सफलतापूर्वक किया गया है

राज्य में पहले चरण में लगभग 4.5 लाख लोगों के टीकाकरण की उम्मीद कर रहे हैं. अब तक हमने 18,000 से अधिक लोगों को कोरोना वैक्सीनेशन के लिए प्रशिक्षित कर लिया है. उन्होंने आगे कहा कि कोविड वैक्सीनेशन के शुभारम्भ के दिन 282 सेशन साइट की तैयारी करने के निर्देश दिये गये है. जिसमें 2 साइट इन्टरएक्टिव रहेगी . ये इन्टरएक्टिव सेशन साइट जयपुर और अजमेर जिले में प्रस्तावित है.

रघु शर्मा ने बताया कि सभी 4.5 लाख लाभार्थियों और केन्द्रीय मंत्रालयों के भी 3711 हेल्थ केयर वर्कर्स का डेटा कोविन सॉफ्टवेयर में अपलोड कर दिया गया है. रघु शर्मा ने आगे कहा कि जहां इन्टरनेट नेटवर्क की उपलब्धता सही नहीं है, वहां पर टीकाकरण का ऑफलाइन डाटा सकंलित कर वैक्सीनेशन होने के बाद कोविन सॉफ्टवेयर में अपलोड करवाने और पंचायतीराज व ग्रामीण विकास मंत्रालय के कार्मिकों को भी वैक्सीनेशन हेतु फ्रन्टलाईन वर्कर्स में शामिल करने का सुझाव दिया गया है.



न्यूज़24 हिन्दी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top