News
भारत

कैप्टन अमरिंदर सिंह के आदेशों पर वित्त विभाग ने आढ़तियों की 151.45 करोड़ रुपए की बकाया राशि जारी की

चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के आदेशों पर वित्त विभाग ने आढ़तियों की 151.45 करोड़ रुपए की बकाया राशि जारी कर दी है. यह जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री कार्यालय के एक प्रवक्ता ने बताया कि भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) ने 5000 के करीब आढ़तियों को इस बकाए की अदायगी करनी थी, परन्तु उसकी तरफ से देरी किए जाने के कारण राज्य सरकार ने अपने खजाने में से इन आढ़तियों को राशि जारी कर दी, जिससे रबी मंडीकरण के चल रहे सीजन के दौरान गेहूं की निर्विघ्न खरीद यकीनी बनाई जा सके. 

गेहूं की खरीद शुरू होने से पहले आढ़तियों ने मुख्यमंत्री के समक्ष यह अपील की थी कि उनके बकाए का तुरंत भुगतान किया जाए जिस पर कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने वित्त विभाग को एफ.सी.आई. की अदायगी का इन्तजार किए बिना यह बकाया रकम तुरंत जारी करने के आदेश दिए थे. इसके बाद खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री भारत भूषण आशु ने मामले की पैरवी की, जिससे आढ़तियों के बकाए का निपटारा हो गया. 

वित्त विभाग ने 151.45 करोड़ रुपए की राशि इस शर्त पर जारी की है कि खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग गेहूं की खरीद के बाद जब भी एफसीआई से यह राशि वापस आती है तो उस रकम को राज्य के खजाने में जमा करवाना यकीनी बनाएगा. जिक्रयोग्य है कि 5000 के करीब आढ़तियों ने सावन की फसल मंडीकरण सीजन 2019-20 के दौरान सार्वजनिक वित्तीय प्रबंधन प्रणाली (पीएफएमएस) की पालना नहीं की थी, जिस कारण एफसीआई ने इन आढ़तियों की कमिशन राशि जो 151.45 करोड़ बनती थी, रोकी हुई है. गेहूं के खरीद प्रबंधों को सुचारू और निर्विघ्न रूप से पूरा किए जाने के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री ने फेडरेशन ऑफ आढ़तिया एसोसिएशन ऑफ पंजाब के प्रधान विजय कालड़ा को विश्वास दिलाया था कि राज्य सरकार हमेशा उनके साथ खड़ी है.



न्यूज़24 हिन्दी

You might also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *