हरियाणा में ज्यादातर छात्रों तक नहीं पहुंच पा रही है ऑनलाइन शिक्षा, हर किसी के पास नहीं है स्मार्टफोन

कोरोना महामारी के चलते लगे लॉकडाउन के दौरान हरियाणा में ऑनलाइन शिक्षा पर जोर दिया जा रहा है. लेकिन यह सभी बच्चों तक नहीं पहुंच पा रही है. कई सरकारी स्कूलों के छात्र कक्षाओं से जुड़ने के लिए संघर्ष कर रहे हैं क्योंकि उनके पास स्मार्टफोन या लैपटॉप नहीं है.

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक नूंह और भिवानी जैसे ग्रामीण जिलों में, 50-70% छात्र सरकार की महत्वाकांक्षी डिजिटल कक्षाओं से अछूते रहे हैं. गुड़गांव में भी, छात्रों से शिक्षा विभाग द्वारा प्राप्त प्रतिक्रिया के अनुसार, अब तक केवल 50-60% छात्र ऑनलाइन कक्षाओं के लिए शिक्षकों द्वारा कवर किए गए हैं.

ऑनलाइन शिक्षा के प्रदर्शन के लिए विभिन्न जिलों के शिक्षा अधिकारियों को डांट लगाते हुए राज्य सरकार ने अब सभी सरकारी शिक्षकों को डोर-टू-डोर सर्वेक्षण करने और डिजिटल कक्षाओं की विस्तृत समीक्षा और छात्रों द्वारा सामना की जाने वाली चुनौतियों के बारे में बताने के लिए कहा है.

राज्य शिक्षा विभाग का आदेश हाल ही में एक वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान आया था, जिसमें सभी जिलों के शिक्षा अधिकारियों और सरकारी शिक्षकों ने भाग लिया था. हरियाणा में, कोविड -19 के प्रसार को रोकने के लिए सभी स्कूलों को अब दो महीने के लिए बंद कर दिया गया है.

राज्य के करीब 30 फीसदी छात्र ऐसे है जो खासकर गांव में रहते है उनके पास, उनके परिवार के सदस्य के ना तो समार्टफोन है और ना ही लैपटॉप, कंप्यूटर है. ऐसे छात्र पड़ोसियों से मांग कर काम चला रहे हैं. जिसमें उनकी शिक्षा काफी बाधित हो रही है.

ऐसे में ऑनलाइन शिक्षा पहुंचाने के लिए सरकार को जिस गरीब परिवार के पास ये उपकरण नहीं उनका सर्वेक्षण करा कर मुहैया करवाना जरूरी है.

ज्ञात रहे कि 90 फीसदी के करीब छात्र गरीबों के ही सरकारी स्कूल में पढ़ते हैं. ऐसे सरकार सबको शिक्षा का सपना कैसे पूरा करेगी.

ताजातरीन ख़बरें

जयपुर में हरियाणा निर्मित 90 लाख रुपये कीमत की शराब जब्त

आबकारी विभाग के अधिकारियों ने रविवार को जयपुर जिले में ट्रक में तस्करी कर ले… और ज्यादा पढ़ें

16 hours पहले

दुष्यंत चौटाला पर इस्तीफे का दबाव, ट्विटर पर भी ट्रेंड कर रहा #दुष्यंत_समर्थन_वापिस_लो

राज्यसभा में दो कृषि बिल पारित होने के बाद हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला पर… और ज्यादा पढ़ें

1 day पहले

दुष्यंत और दिग्विजय चौटाला ताऊ देवी लाल के नाम पर कलंक है-अभय चौटाला

दुष्यंत और दिग्विजय चौटाला ताऊ देवी लाल के नाम पर कलंक है-अभय चौटाला कृषि बिलों… और ज्यादा पढ़ें

1 day पहले

देवेंद्र बबली के बाद किसानों के समर्थन में एक और जेजेपी विधायक, कही यह बात

कृषि बिल 2020 रविवार को राज्यसभा में पास हो गया है. कृषि अध्यादेशों को लेकर… और ज्यादा पढ़ें

1 day पहले

कृषि बिल राज्यसभा में भी पास, किसानों ने जगह-जगह किए हाईवे जाम

लोकसभा के बाद राज्यसभा में कृषि बिल पास हो गए हैं. इसके विरोध में हरियाणा,… और ज्यादा पढ़ें

1 day पहले