पिछले 20 सालों में यहां नहीं आया ऐसा विनाशकारी तूफान, मचा दी तबाही, अब इन राज्यों में बरसेगी आफत !

News

नई दिल्ली: मौसम ने अचानक अंगड़ाई ले ली है. हालांकि जो धूल भरी आंधी और तेज तूफान अप्रैल माह में आता था वो इस बार मार्च के आखिर में ही आ गया है. सोमवार शाम को जैसलमेर में आए तेज तूफान ने ऐसी तबाही मचाई है कि किसानों रो रहे हैं. इस तबाही में करीब 3 हजार से ज्यादा पेड़ और कई बिजली के पोल उखड़ गए. कई हजार एकड़ की फसलें तबाह हो गई हैं. 

अब मौसम का ये रुख यूपी और हरियाणा की ओर है. मौसम विभाग की मानें तो अगले कुछ घंटों में यहां भी तेज तूफान साथ बारिश होने का अनुमान है. बारिश के साथ ओले भी  गिर सकते हैं. दिल्ली- एनसीआर समेत आसपास के राज्यों में मंगलवार दोपहर को हल्की आंधी शुरू हो गई है. मौसम विभाग का अनुमान है कि इधर भी तेज तूफानी हवाएं चल सकती हैं. 

इससे सबसे ज्यादा किसानों को नुकसान होने की संभावना है. शहरी क्षेत्रों में जन-जीवन बुरी तरह अस्त-व्यस्त हो सकता है. इस दौरान सड़क पर चलना खतरे से खाली नहीं है. तेज आंधी में पेड़ भी गिर सकते हैं. सोमवार को राजस्थान के कई जिलों में बारिश के साथ ओले गिरे. वहीं जैसलमेर में ऐसी आंधी आई कि पूरा आसमान रेत से पट गया. लोगों ने कहा कि ऐसी आंधी पिछले 20 सालों में यहां नहीं आई थी. करीब 3 हजार से ज्यादा पेड़ उखड़ गए. 

तूफानी हवाओं ने खेत में खड़ी फसलों को चौपट कर दिया. रही सही कसर बारिश और ओलों ने निकाल दी. कट गई फसलों को भी भरी नुकसान हुआ है. करीब 20 से ज्यादा लोग इस अंधड़ में घायल हो गए हैं. किसी को मामूली चोटें आई हैं तो किसी को गंभीर चोट. रामगढ़ , मोहनगढ़ व नाचना के समूचे नहरी क्षेत्र के किसान पूरी तरह से बर्बाद हो चुके हैं.

हवा में उड़ने लगी किसानों की मेहनत:

जैसलमेर और उसके आस-पास के जिलों में करीब 80 प्रतिशत से ज्यादा फसलें कट चुकी हैं. जिसमें 60 फीसदी से ज्यादा फसलें खेतों में ही थी. तूफान के कहर ने फसलों को हवा में उड़ाकर बिखेर दिया. किसानों की मेहनत और खाद-बीज, पानी के पैसे देखते ही देखते हवा में उड़ गए. अनुमान के मुताबिक 1 करोड़ से ज्यादा की फसलें तबाह हो चुकी हैं. 

अब इन इलाकों में आ सकता है तूफान:

मौसम विभाग ने आगाह किया है कि लोहारू, भिवानी, महेंद्रगढ़, चरखी दादरी, कोसली, झज्जर, फरूखनगर, रोहतक, जींद, राजौंद, असंध, करनाल, पानीपत, कुरुक्षेत्र, कैथल (कैथल) में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है. बारिश के साथ ओले भी पड़ सकते हैं. यहां 30-40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी भी चल सकती है. 

इसके अलावा मंगलवार शाम तक  झुंझुनू (राजस्थान), यमुनानगर, खतोली (यूपी) और आसपास के क्षेत्र. दक्षिण, दक्षिण-पश्चिम, उत्तरी-पश्चिमी दिल्ली के अलावा आसपास के क्षेत्रों में हल्की या मध्यम बारिश होने का अनुमान है. वहीं यूपी के उत्तरी हिस्से में तूफान के साथ बारिश के आसार हैं. 



न्यूज़24 हिन्दी