News
भारत

श्मशान में हालात हुए बदतर..शवों के लिए लकड़ियां भी कम पड़ रहीं

मध्य प्रदेश-छत्तीसगढ़ में कोरोना की दूसरी लहर के हालात कुछ इस कदर बेकाबू हो गए हैं कि अब तक जहां अस्पतालों में बेड, दवाई और इंजेक्शन को लेकर दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था, वहीं अब राज्य के जिलों में श्मशान घाटों पर अब शवों को जलाने के लिए जगह तो दूर लोगों को लकड़ियां तक नहीं मिल रहीं हैं. आलम यह है कि घाटों पर शवों को जलाने के लिए भी कोई नहीं है. प्रदेश के भोपाल, जबलपुर समेत कई बड़े शहरों में शवों को जलाने के लिए आचानक लकड़ियों की कमी आना शुरू हो गई है.  

दरअसल भोपाल में शुक्रवार के दिन भदभदा विश्राम घाट में दाह संस्कार के लिए लकड़ियों की कमी पड़ जाती है. जिसके चलते श्मशान ट्रस्ट ने रायसेन और होशंगाबाद(नर्मदापुरम) से लकड़ियों के इंतजाम करने की मांग रखी. लेकिन होशंगाबाद के वन अधिकारियों ने ये कहकर मदद करने से इनकार कर दिया कि उनके जिलों में भी मामलों में इजाफा हो रहा है. वहीं इस मामले की सूचना मिलते ही बीजेपी के उपाध्यक्ष आलोक शर्मा आगे आए और 5 ट्रक लकड़ी लेकर भदभदा विश्राम घाट पहुंचते हैं. 



न्यूज़24 हिन्दी

You might also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *