मंगल कार्य नहीं हो रहे संपन और विवाह में आ रही है अड़चनें, तो गुरुवार को करें ये 7 उपाय

News

नई दिल्ली : जब मन अशांत होता है और कुछ भी समझ नहीं आता तब गुरु का सानिध्य ही जीवन में एक मात्र सहारा होता है. तब जाकर ऊंचाइयों के मुकाम पर पहुंचना आसान हो जात है. कहते है गुरुवार का दिन लक्ष्य कि सिद्धि और मनोकामना पूर्ति के लिए श्रेष्ठ है.

बृहस्पति को देवताओं का गुरु माना जाता है. इनकी पूजा-अर्चना करने मात्र से ही जीवन में आ रहे सभी संकट, बाधा और कष्ट दूर हो जाते है. अगर आपके घर के मंगल कार्य नहीं हो पा रहे है संपन, विवाह में आ रही है अड़चनें, योग्य वर या योग्य कन्या मिलने में हो रही है देरी. तो अब परेशान मत होना क्योंकि गुरु बृहस्पति करेंगे आपका बेड़ा पार.

गुरुवार के दिन ये खास उपाय  –

यदि आपका गुरु अशुभ या कमजोर है, तो आपको नित्य पीपल में जल चढ़ाना चाहिये. ऐसा करने से आपके ग्रह मजबूत होंगे और किसी भी प्रकार की बाधा क्यों ना हो वो दूर हो जाएगी.

हमेशा सदा सत्य बोलें और झूठ की बुनियाद में किसी भी रिश्ते को कायम ना करें. तभी आपको गुरु का शुभ फल प्राप्त होगा और इससे आपका आचरण भी  शुद्ध रहेगा.

शीघ्र विवाह के लिए बृहस्पतिवार का व्रत रखें और उस दिन केले के वृक्ष जल, धूप , दीपक दिखाकर पूजा करें. ऐसा करने से विवाह में आ रही अड़चनें दूर हो जाएंगी.

इसके अलावा गुरु को शुभ करने के लिए सदा पिता, दादा और गुरु का आदर कर उनके पैर छुएं.

गुरुवार के विशेष रूप से पीले कपड़े पहनें और भोजन में भी पीली चीजों का सेवन करें.

इस दिन अगर हो सके तो मंदिर जाकर या किसी जरूरतमंद को पीली वस्तु का दान दे. ऐसा करने से घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है.

 गुरु मंत्र  ” ॐ बृं बृहस्पतये नम:  का 108 बार जाप करने से सभी प्रकार के कष्ट, बाधा और संकट दूर होते हैं.



न्यूज़24 हिन्दी