जेजेपी-बीजेपी के सैंकड़ों कार्यकर्ता इनेलो में शामिल, पूर्व चेयरमैन ने बीजेपी के एक मंत्री लगाए गंभीर आरोप

बुधवार को चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के नेतृत्व में आस्था रखते हुए भाजपा व जजपा कार्यकर्ताओं ने चौधरी अभय सिंह चौटाला व इनेलो प्रदेशाध्यक्ष नफे सिंह राठी की मौजूदगी में इनेलो जॉइन की.

महेंद्रगढ़ के जिला परिषद के पूर्व चेयरमैन सुरेंद्र कौशिक, प्रमुख समाज सेवी व उद्योगपति नरेश शर्मा, समाजसेवी हंसराज यादव, राजेश शर्मा, भाजपा के वार्ड प्रमुख व सैनी समाज के प्रमुख प्रवीण सैनी, अम्बाला से आरएसएस के प्रभारी व भाजपा के मण्डल प्रमुख गुलाब सिंह, कुलदीप सैनी, सुमेर चंद सैनी, हरिचंद सैनी, नरवाना से भाजपा के शहरी सचिव सोनू बाल्मीकि अपने साथियों सहित इनेलो में शामिल हुए.

गुहला-चीका से इनसो के मीडिया प्रभारी रणजीत सिंह भी इनेलो में शामिल हुए. जजपा को छोड़ कर आए गांव मनोहरपुर जिला जींद के इंद्र सिंह, राजेंद्र सिंह पंजेठा, मास्टर फूल कुमार, चतर सिंह कश्यप, बलबीर सिंह जांगड़ा व कांग्रेस को छोडक़र आए मास्टर कर्ण सिंह ने इनेलो की सदस्यता ग्रहण की.

इनेलो विधायक अभय सिंह चौटाला ने कहा कि पिछले महीने चौधरी देवी लाल की विचारधारा में आस्था रखते हुए कांग्रेस-भाजपा और जजपा को छोडक़र कार्यकर्ता इनेलो में शामिल हुए थे तथा बीएसपी का समूचा कैडर भी इनेलो में शामिल हुआ था. तब सरकार और अन्य दलों की तरफ से बड़ी प्रतिक्रिया आई थी उन्हें बड़ी तकलीफ हुई थी. मैंने कहा था कि ये सिलसिला जारी रहेगा और आज ऐसा कोई दिन नहीं है जब लोग अन्य दलों को छोडक़र इनेलो में शामिल न हो रहे हों. करीब दस साल के कांग्रेस के राज में भू-माफिया का राज रहा. कांग्रेस ने किसान की जमीन लूट कर किसान को बर्बाद किया और अब भाजपा सरकार किसान की फसल लूट कर किसान को बर्बाद कर रही है.

भाजपा लोकसभा की दस सीटें जीती थी जिसमें लगभग 80 विस सीटों पर बढ़त ली थी और भाजपा ने 75 पार का नारा दिया था लेकिन जनता ने उन्हें 40 सीटों पर लाकर खड़ा कर दिया. हमारे कुछ लोग जो स्वार्थी थे, उन्होंने चौधरी ओमप्रकाश चौटाला से विश्वासघात किया और पार्टी को सत्ता से दूर करने में कामयाब रहे.

उन्होंने जनता से जो वायदे किए थे उन्हें पूरा करने की बजाय नए माफिया को जन्म दे दिया. अब शराब माफिया, नशा के कारोबार का माफिया, किडनैप माफिया, डकैती माफिया, रेत-बजरी माफिया, लदाई और ढुलाई जैसे माफिया खड़े हो गए हैं. इसलिए अन्य दलों में राजनीति करने वाले, समाजसेवी, किसान हितैषी लोगों ने दुखी होकर ये फैसला लेना शुरू कर दिया है कि उन्हें उस व्यक्ति के साथ मिलकर प्रदेश की जनता की भलाई के लिए लड़ाई लडऩी चाहिए जिसने ‘सरकार आपके द्वार’ जैसे कार्यक्रम चलाकर लोगों की समस्याओं का समाधान कर सुख-सुविधाएं प्रदान की थी. अब नए सिरे से लोगों का इनेलो पर विश्वास पैदा हो रहा है जिस कारण अन्य दलों से लोग इनेलो में शामिल हो रहे हैं.

वहीं भाजपा को छोड़ इनेलो में शामिल हुए महेंद्रगढ़ के जिला परिषद के पूर्व चेयरमैन सुरेंद्र कौशिक ने भाजपा के एक वरिष्ठ पूर्व मंत्री पर पैसे लेकर नौकरी देने के गंभीर आरोप लगाए और कहा कि जो नौकरी नहीं लग पाए उनका पैसा आज तक वापिस नहीं किया गया.

उन्होंने कहा कि वो 2015 में भाजपा में शामिल हुए थे तथा रामबिलास शर्मा को उन्होंने चुनाव में मदद करके जितवाया था. ईमानदारी का ढोंग करने वाली भाजपा सरकार पूरी तरह भ्रष्ट है. कोई ऐसा ऑफिस नहीं है जिसमें मंथली न जाती हो व बहुत कम अधिकारी ऐसे हैं जो रिश्वत न लेते हों. उन्होंने कहा कि अगले बुधवार को मीडिया के सामने पैसे के बदले नौकरी देने के सबूत रखेंगे.

कौशिक ने कहा कि आजकल अभय चौटाला की एक बात चल रही है कि वो ईमानदार और बात का धनी है, मैं दावे से कहता हूं कि ये बात सौ प्रतिशत सत्य है.

ताजातरीन ख़बरें

जयपुर में हरियाणा निर्मित 90 लाख रुपये कीमत की शराब जब्त

आबकारी विभाग के अधिकारियों ने रविवार को जयपुर जिले में ट्रक में तस्करी कर ले… और ज्यादा पढ़ें

2 days पहले

दुष्यंत चौटाला पर इस्तीफे का दबाव, ट्विटर पर भी ट्रेंड कर रहा #दुष्यंत_समर्थन_वापिस_लो

राज्यसभा में दो कृषि बिल पारित होने के बाद हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला पर… और ज्यादा पढ़ें

2 days पहले

दुष्यंत और दिग्विजय चौटाला ताऊ देवी लाल के नाम पर कलंक है-अभय चौटाला

दुष्यंत और दिग्विजय चौटाला ताऊ देवी लाल के नाम पर कलंक है-अभय चौटाला कृषि बिलों… और ज्यादा पढ़ें

2 days पहले

देवेंद्र बबली के बाद किसानों के समर्थन में एक और जेजेपी विधायक, कही यह बात

कृषि बिल 2020 रविवार को राज्यसभा में पास हो गया है. कृषि अध्यादेशों को लेकर… और ज्यादा पढ़ें

2 days पहले

कृषि बिल राज्यसभा में भी पास, किसानों ने जगह-जगह किए हाईवे जाम

लोकसभा के बाद राज्यसभा में कृषि बिल पास हो गए हैं. इसके विरोध में हरियाणा,… और ज्यादा पढ़ें

2 days पहले