Gold Price Update: सोना खरीदारों के चेहरों पर मुस्कान, अब इतनी रह गई 10 ग्राम की कीमत

News

नई दिल्ली: शादी-ब्याह के सीजन में सोने के भाव कम होने से खरीदारों के चेहरों पर मुस्कान है. इतना ही नहीं आने वाले दिनों में और गिरावट दर्ज होने की उम्मीद है. फिलहाल सोना 44 हजार रुपये प्रति 10 ग्राम के आसपास बिक रहा है. मंगलवार को सोने की हाजिर कीमत में मामूली तेजी दर्ज की गई. दिल्ली में मंगलवार को सोने के भाव में 45 रुपये की तेजी दर्ज हुई है. इस तेजी से सोने का भाव 44,481 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया है. इससे पहले सोमवार को सोना 44,436 रुपये प्रति 10 ग्राम के भाव पर बंद हुआ था.

मंगलवार को सोने के साथ ही चांदी की हाजिर कीमत में भी थोड़ी तेजी देखी गई. मंगलवार को चांदी में 116 रुपये प्रति किलोग्राम की तेजी दर्ज की गई. इस तेजी से चांदी का भाव बढ़कर 66,740 रुपये प्रति किलोग्राम हो गया है. इससे पहले सोमवार को चांदी 66,624 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुई थी.

अगर आप शादी ब्याह के लिए खरीदारी करने की सोच रहे हैं तो इससे अच्छा मौका नहीं मिलेगा. हालांकि आप अगर सोने में निवेश करना चाहते हैं तो कुछ समय और रुक सकते हैं. सर्राफा बाजार के जानकारों की मानें तो आने वाले दिनों में सोना अभी और सस्ता होगा. माना जा रहा है कि सोना 1500 डॉलर प्रति औंस तक गिर सकता है, जिसके बाद इसमें स्थिरता दिखेगी. यानी इस हिसाब से भारतीय रुपयों में देखा जाए तो सोना करीब 40000 रुपये प्रति 10 ग्राम के लेवल के करीब पहुंच सकता है.

बताया जा रहा है कि कोरोना संक्रमण की चिंताएं अब लोगों के मन से दूर हो रही है. लिहाजा लोग अब सुरक्षित निवेश के तौर पर सोने को नहीं खरीद रहे हैं. निवेशकों ने शेयर बाजार की ओर रुख किया है. लिहाजा आने वाले दिनों में कीमतें और गिर सकती है. घरेलू सर्राफा बाजार में सोने के दाम गिरकर 40 हजार रुपये प्रति दस ग्राम पर आ सकते है. साथ ही इन लोगों का कहना है कि अगले 15 दिन और सोने की कीमतों में गिरावट का रुख जारी रह सकता है. लेकिन, इसके दिवाली तक  फिर से 50 हजार रुपये प्रति दस ग्राम तक पहुंचने की उम्मीद है.

दरअसल वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट प्रस्ताव में सोने और चांदी पर आयात शुल्क में 5 फीसदी की कटौती का ऐलान किया है. फिलहाल सोने और चांदी पर 12.5 फीसदी आयात शुल्क चुकाना पड़ता है. लेकिन अब एक अक्टूबर से सोने और चांदी पर सिर्फ 7.5 फीसदी इंपोर्ट ड्यूटी चुकानी होगी. इससे भी सोने और चांदी की कीमतों में कमी आएगी.



न्यूज़24 हिन्दी