Close

परिवार के झगड़े से तंग आकर किसान ने कुत्ते के नाम किया संपत्ति का आधा हिस्सा

News

भोपाल: किसी बॉलीवुड फिल्‍म की तरह मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा जिले में एक पालतू कुत्ते के नाम उसके मालिक ने अपनी संपत्ति उसके नाम करने का निर्णया किया है. छिंदवाड़ा के बडियारा गांव के मूल निवासी 50 वर्षीय किसान ओम नारायण वर्मा परिवार के लोगों से झगड़े के बाद यह कदम उठाया है.

निरंतर पारिवारिक झगड़े से परेशान ओम नारायण वर्मा ने अपनी मृत्यु के बाद दूसरी पत्नी चंपा बाई और पालतू कुत्ते जैकी को उत्तराधिकारी व पैतृक संपत्ति का कानूनी उत्तराधिकारी बनाया है. किसान ने कानूनी रूप से नोटरी करते हुए कहा है उन्हें चंपा बाई और जैकी के लिए असीम प्रेम है, क्योंकि वे ही उनकी देखभाल करते हैं.

वर्मा ने अपनी इच्छा का उल्लेख करते हुए कहा कि उनकी मृत्यु के बाद उनकी संपत्ति, उनकी पत्नी और पालतू जानवरों को विरासत में दी जाए. इसमें कहा गया है कि जो कोई भी जैकी का ख्याल रखेगा, वह कुत्ते के पालतू जानवर के हिस्से का इस्तेमाल करने का हकदार होगा, ताकि वह कुत्ते की भलाई सुनिश्चित कर सके.

सबसे दिलचस्प बात यह है कि वसीयत में कहा गया है कि जो कोई भी जैकी की देखभाल करेगा, उसके निधन के बाद संपत्ति का हिस्सा उसे मिलेगा. वर्मा के अनुसार, पारिवारिक झगड़े को लेकर उन्‍होंने ऐसा कदम उठाया और उन्‍हें इस कदम को उठाने के बाद कोई पछतावा नहीं है.

गांव के पूर्व प्रमुख वर्मा ने कहा, “नोटरी में न केवल मेरे कुत्ते का नाम, बल्कि मेरी पत्नी चंपा बाई का नाम भी शामिल होगा. मैंने अपने कुत्ते को मेरी मृत्यु के बाद भी अपने परिवार की देखभाल के लिए जैकी की देखभाल सुनिश्चित करने के लिए अपनी विरासत का हिस्सा दिया.”

लगभग 21 एकड़ जमीन के मालिक वर्मा की दो पत्नियां हैं. जबकि पहली शादी से उनकी दो बेटियां और एक बेटा है, दूसरी पत्नी से उनकी दो बेटियां हैं, इनमें से एक उनकी देखभाल करती है.



न्यूज़24 हिन्दी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top