Close

‘घर होते तो भी किसान मरते’ बोलने वाले कृषि मंत्री जेपी दलाल बैकफुट पर आये

'घर होते तो भी किसान मरते' बोलने वाले कृषि मंत्री जेपी दलाल बैकफुट पर आये


फरीदाबाद, 14 फरवरी: हरियाणा के कृषि मंत्री जय प्रकाश दलाल ने 200 आंदोलनकारी किसानों की मौत पर पूछे गए सवाल पर जवाब देते हुए कहा था कि अगर ये किसान अपने घर में होते तो भी मरते क्योंकि अगर कुल जनसख्या और मरने की दर निकालें तो लाख दो लाख में से 200-250 लोग अपने आप मरते हैं. उन्होंने हँसते हुए मृतक किसानों को श्रद्धांजली भी दी थी.

अब जेपी दलाल ने अपने बयान पर माफी मांगी है, उन्होंने कहा कि मेरे बयान को तोड़ मरोड़कर पेश किया गया और उसका गलत अर्थ निकाला गया, अगर मेरे बयान से किसी की भावना को ठेस पहुंची हो तो मैं उसके लिए माफी मांगता हूँ. देखिये वीडियो – 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि दिल्ली में कृषि कानून के विरोध में पिछले ढाई महीनों से आंदोलन चल रहा है जिसमें सैकड़ों किसानों की मौत भी हो चुकी है हालाँकि इनमें से अधिकतर किसान बीमारी से मरे हैं और कुछ किसानों ने आत्महत्या कर ली है. इन किसानों को शहीद का दर्जा दिए जाने की मांग की जा रही है.

//



हरियाणा न्यूज़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top