Close

देश में कमजोर हुआ कोरोना, पिछले 24 घंटे में सामने आए 16,504 मामले

News

नई दिल्‍ली: केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार, पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस बीमारी (कोविड-19) के 16,504 मामले और 214 संबंधित मौत दर्ज की गई. इसके साथ ही भारत में कोरोना के कुल 10,34,04,69 मामले हो गए हैं. पिछले साल 29 दिसंबर को कोरोना वायरस बीमारी के 16,432 मामले थे.

कोविड-19 के सक्रिय मामलों की संख्या 243,953 के साथ ही दूसरे दिन 250,000 अंक से नीचे रही. स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, पिछले 24 घंटों में देशभर में कोविड-19 के 19,557 रोगियों को ठीक किया गया है या डिस्चार्ज किया गया है. जिसके साथ ही राष्ट्रीय वसूली दर 96.19% हो गई है.

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों से पता चलता है कि पिछले 38 दिनों से दर्ज दैनिक मामलों की तुलना में रोजाना ठीक होने वाले लोगों की संख्‍या अधिक है. बरामद और सक्रिय मामलों के बीच की खाई और अधिक चौड़ी हो गई है.

ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) वीजी सोमानी ने रविवार को ऑक्सफोर्ड के कोविड-19 वैक्सीन, कोविल्ड और भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड के कोवैक्‍सिन को आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी दे दी. इसके साथ ही देश में लगभग 10 दिनों के अंदर कोरोना वायरस बीमारी के खिलाफ सरकार के टीकाकरण अभियान के लिए रास्ता साफ हो गया है.

इस बीच, एसआईआई के अदार पूनावाला ने बताया कि सरकार कई महीनों तक ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के निर्यात की अनुमति नहीं देगी. पूनवाल ने कहा कि उनकी कंपनी को निजी बाजार में वैक्सीन बेचने से भी रोक दिया गया है. पूनावाला ने बताया, “हम केवल (टीके) भारत सरकार को दे सकते हैं.”

पुणे स्थित कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने भी कहा कि वैक्सीन की पहली 100 मिलियन खुराक सरकार को 200 रुपये प्रति डोज के “विशेष मूल्य” पर बेची जा रही है, जिसके बाद कीमतें अधिक होंगी. वैक्सीन को निजी बाजार में 1,000 रुपये में बेचा जाएगा. उन्होंने कहा कि टीकों को उन राज्यों तक पहुंचाया जा सकता है, जहां उन्हें केंद्र के साथ एक समझौते को अंतिम रूप देने के सात से 10 दिनों के भीतर जरूरत है.



न्यूज़24 हिन्दी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top