Close

चीन में फिर लौटा कोरोना, ये नए प्रतिबंध किए लागू

News

नई दिल्ली: चीन में एक बार फिर से कोरोना वायरस का प्रकोप लौटने की खबर है. बीजिंग के पास चीन के हेबेई प्रांत ने कई नए मामले दर्ज किए हैं, इसके चलते अधिकारियों ने यात्रा प्रतिबंध लगाने के लिए कदम उठाए हैं और सभाओं पर प्रतिबंध लगा दिया है. हेबेई ने 64 नए सिम्प्टोमेटिक मामलों के साथ कम से कम 20 स्थानीय रूप से प्रसारित वायरस के मामलों को दर्ज किया है. इसके बाद लोकल अथॉरिटीज ने स्थानीय नागरिकों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. इसके तहत बस या प्लेन में बैठने से 72 घंटे पहले कोविड टेस्ट अनिवार्य किया गया है. शहर के अधिकारियों ने भी बड़े पैमाने पर कोविड 19 परीक्षण अभियान शुरू किया है, जिसमें बताया गया कि पिछली बार हेबेई में पिछले साल जून में स्थानीय प्रसारण हुआ था. खबरों में कहा गया है कि निवासियों ने शीज़ीयाज़ूआंग में गांव में ईवेंट्स में हिस्सा लिया, राज्य में चलने वाली सिन्हुआ समाचार एजेंसी ने बताया कि प्रांतीय राजधानी तेजी से फैलने वाले वायरस से निपटने के लिए ट्रेन सेवा को निलंबित करने के लिए चली गई थी. रिपोर्ट में कहा गया है कि स्थानीय अधिकारियों ने वायरस के प्रसार को रोकने के लिए कुछ गांवों में लॉकडाउन लगा दिया है और सभाओं पर प्रतिबंध लगा दिया है  

अधिकारियों ने कहा कि शिजियाझुआंग में गाओचेंग जिले की पहचान हाई  रिस्क जोन के रूप में की गई थी. डालियान, लिओनिंग प्रांत में भी ऐसे मामले सामने आए थे जब निवासियों को शहर छोड़ने से रोक दिया गया था. बीजिंग ने नए साल में बड़े पैमाने पर टीकाकरण शुरू कर दिया है ताकि हजारों लोग अपनी जेबें जमा सकें. चीन के राज्य मीडिया ने बताया कि देश की राजधानी में कम से कम 73,000 लोगों ने वैक्सीन प्राप्त की है. 

स्वास्थ्य अधिकारियों ने फार्मा की दिग्गज कंपनी सिनोपार्म को अपनी मंजूरी दे दी थी, कंपनी ने दावा किया था कि वायरस से लड़ने के लिए इसमें 79 प्रतिशत प्रभावकारिता दर थी. फरवरी के मध्य में चंद्र नव वर्ष तक देश के लाखों नागरिकों को इस सर्दी में टीका लगाने की योजना है. 

 



न्यूज़24 हिन्दी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top