केंद्र ने पश्चिम बंगाल सरकार से मांगी रिपोर्ट
बड़ी ख़बर

केंद्र ने पश्चिम बंगाल सरकार से मांगी रिपोर्ट


नयी दिल्ली/कोलकाता/चेन्नई, 3 मई (एजेंसी)

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के एक दिन बाद सोमवार को व्यापक पैमाने पर हिंसा देखने को मिली. कथित तौर पर झड़प और दुकानें लूटे जाने के दौरान कई बीजेपी कार्यकर्ताओं की मौत हो गयी, तो कई घायल हो गये. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्य सरकार से विपक्षी कार्यकर्ताओं को निशाना बनाकर की गयी हिंसा पर रिपोर्ट तलब की है.

बीजेपी ने आरोप लगाया है कि हुगली जिले के पार्टी कार्यालय में आगजनी की गई और शुभेंदु अधिकारी समेत उसके कई नेताओं को तृणमूल कांग्रेस समर्थकों द्वारा निशाना बनाया गया. बीजेपी का दावा है कि उसके कम से कम 6 कार्यकर्ता और समर्थक हमलों में मारे गये हैंै. इस बीच, राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने प्रदेश के गृह सचिव, डीजीपी और कोलकाता के पुलिस आयुक्त को तलब कर शांति बहाल करने के निर्देश दिये.

निर्वाचन अधिकारी को था जान का खतरा : दीदी

कोलकाता (एजेंसी): पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि वह नंदीग्राम के चुनाव परिणाम को लेकर अदालत का रुख करेंगी. बनर्जी ने नंदीग्राम के निर्वाचन अधिकारी द्वारा सीईओ कार्यालय को भेजे एक कथित एसएमएस को सार्वजनिक करते हुए दावा किया कि उन्होंने आशंका जताई थी कि अगर वह फिर से मतगणना के आदेश देते हैं तो उन्हें गंभीर परिणाम भुगतने होंगे और आत्महत्या तक करनी पड़ सकती है. उन्होंने कहा, ‘निर्वाचन आयोग औपचारिक रूप से घोषणा करने के बाद नंदीग्राम के परिणाम कैसे उलट सकता है? इसके खिलाफ हम अदालत जाएंगे.’ उन्होंने कहा, ‘सर्वर चार घंटे तक डाउन क्यों था? बनर्जी ने कुछ स्थानों से हिंसा की खबरों के बीच अपने समर्थकों से शांति बनाए रखने की अपील की और कहा कि किसी के उकसावे में नहीं आएं. उन्होंने आरोप लगाए कि केंद्रीय बलों ने चुनावों के दौरान टीएमसी समर्थकों पर काफी अत्याचार किए. उन्होंने कहा, ‘परिणाम घोषित होने के बाद भी बीजेपी ने कुछ इलाकों में हमारे समर्थकों पर हमला किया लेकिन हमने अपने लोगों से किसी के उकसावे में नहीं आने की अपील की .

मिलकर लड़ सकते हैं 2024 की लड़ाई

ममता ने देश के विपक्षी दलों का परोक्ष रूप से आह्वान किया कि अगले लोकसभा चुनाव में बीजेपी के खिलाफ साथ मिलकर लड़ाई लड़ी जा सकती है हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि पहले कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़नी है. 2024 के चुनाव को लेकर कोई फैसला किया जाएगा.

मोदी ने फोन नहीं किया : राज्य विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस की प्रचंड जीत की पृष्ठभूमि में ममता ने कहा कि इस जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से बधाई देने संबंधी कोई फोन उनके पास नहीं आया, जबकि अब तक यह परंपरा रही है कि प्रधानमंत्री फोन करते हैं. ठीक है, हो सकता है कि वह व्यस्त हों.

ममता कल तीसरी बार लेंगी शपथ

ममता बनर्जी बुधवार 5 मई को तीसरी बार पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगी. टीएमसी महासचिव पार्थ चटर्जी ने कहा कि नव-निर्वाचित विधायकों ने बनर्जी को सर्वसम्मति से विधायक दल का नेता चुना. नव-निर्वाचित सदस्य 6 मई को विधानसभा में शपथ लेंगे.

तमिलनाडु : सीएम का इस्तीफा, विधानसभा भंग

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी ने अपना और अपने मंत्रिमंडल का त्यागपत्र सोमवार को राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित को सौंप दिया, जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया है. साथ ही राज्यपाल ने ‘तमिलनाडु की 15वीं विधानसभा (2016 से 21) को भंग कर दिया है.

पुडुचेरी : रंगासामी का सरकार बनाने का दावा

पुडुचेरी : एआईएनआरसी नेता एन रंगासामी ने पुडुचेरी की 30 सदस्यीय विधानसभा में राजग को 16 सीटें मिलने के बाद सोमवार को सरकार गठन का दावा किया. रंगासामी ने यहां राजनिवास में उपराज्यपाल तमिलिसाई सौंदर्यराजन से भेंट की और इस संबंध में उन्हें एक पत्र सौंपा. दिन में इससे पहले रंगासामी को एआईएनआरसी विधायक दल का नेता चुना गया. पार्टी सूत्रों ने बताया कि शपथ ग्रहण समारोह 7 या 9 मई को होगा.



दैनिक ट्रिब्यून से फीड

You might also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *