Close

Budget 2021: आम लोगों को निर्मला सीतारमण से इनकम टैक्स में छूट की आस, ऐसे राहत दे सकती है सरकार

News

नई दिल्ली: कोरोना संकट के बीच वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 1 फरवरी को देश का आम बजट पेश करने जा रही है. बड़ी तादाद में देश के मतदाता खासकर मध्यम वर्गीय लोगों इनकम टैक्स में छूट बढ़ाने को लेकर निर्मला सीतारमण की ओर देख रहा है. हालांकि,  कोरोना संकट की वजह से आर्थिक क्षेत्र में छाई सुस्ती की वजह से आयकर में फिलहाल कोई बड़ी राहत देना वित्त मंत्री के लिए बड़ी चुनौती हो सकती है.

नौकरी पेशा से जुड़े लोगों बजट में इनकम टैक्स स्लैब्स में बदलाव की मांग कर रहे हैं. आयकर दाता स्लैब्स में पांच लाख तक की इनकम को टैक्स फ्री किए जाने की वकालत कर रहे हैं. इन लोगों का कहना है कि पांच लाख तक की इनकम को टैक्स फ्री करने के साथ-साथ सर्विस मैन को 80सी के तहत छूट का प्रावधान बरकरार रखना जरूरी है.

मौजूदा इनकम टैक्‍स स्‍लैब

0 से 2.5 लाख तक- 0%

2.5 लाख से 5 लाख- 5%

5 लाख से 7.5 लाख- 10%

7.5 लाख से 10 लाख- 15%

10 लाख 12.5 लाख- 20%

12.5 लाख से 15 लाख-  25%

15 लाख से ऊपर- 30% 

सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक सरकार इनकम टैक्स में करदाताओं को 50,000 से 80,000 तक राहत दे सकती है. ज्यादा छूट देने के लिए नई रीजीम स्लैब में बदलाव कर सकती है. इसके साथ ही सरकार मौजूदा स्लैब में स्टैंडर्ड डिडक्शन में भी बढ़ोतरी हो सकती है. आपको बता दें कि अभी स्टैंडर्ड डिडक्शन 50,000 रुपये है. वहीं बजट में होमलोन पर भी टैक्स छूट बढ़ाई जा सकती है.

आपको बता दें कि पिछले साल बजट में विकल्प के तौर पर टैक्सपेयर्स के लिए कम टैक्स दरों वाली स्लैब का ऐलान किया गया था लेकिन इस सिस्टम में 80G समेत ज्यादातर डिडक्शन खत्म कर दिए गए थे. वहीं 80 सी के तहत सीमा को बढ़ाकर 1.5 लाख रुपये से 2 लाख रुपये की जा सकती है.

 



न्यूज़24 हिन्दी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top