Close

कोविड प्रबंधन में अव्वल रहा अयोध्या, प्रशासन को मिला स्कॉच गोल्ड अवॉर्ड

News

अयोध्या: कोरोना जब दुनियाभर में अपना विकराल रूप दिखा रहा था, तब कई लोग ऐसे थे, जिन्होंने कोरोना का प्रबंधन मजबूती से किया और कोरोना के प्रसार को फैलने से रोकने में कुछ हद तक कामयाबी हासिल की. ऐसे प्रबंधन को अब दुनियाभर में सराहना मिल रही है. रामनगरी अयोध्या कोविड प्रबंधन में मामले में अव्वल रही है. कोरोनाकाल के दौरान बेहतरीन प्रबंधन के लिए अयोध्या प्रशासन को स्कॉच गोल्ड अवॉर्ड से नवाजा गया है. अयोध्या प्रशासन को इस अवॉर्ड के लिये कई जिलों से बेहतरीन चुना गया.

स्कॉच गोल्ड अवॉर्ड मिलने के बाद जिला अधिकारी अनुज कुमार झा का कहना है कि मुझे इस बात से खुशी है कि अयोध्या को स्कॉच गोल्ड अवॉर्ड मिला है. उन्होंने कहा कि कोरोना काल के दौरान जिस तरह से स्थानीय लोगों का सहयोग मिला है. इसी का परिणाम है कि अयोध्या प्रशासन को स्कॉच गोल्ड अवॉर्ड मिला है. उन्होंने कहा कि इस दौरान उन्हें बहुत कुछ सीखने को भी मिला है जिससे वह संतुष्ट हैं.

कोविड के दौरान अयोध्या जिला प्रशासन की ओर से कोरोना की रोकथाम को लेकर नए नए प्रयोग किये गये. जिसके कारण कोरोना को हराने में मदद मिल सकी है. इसके अलावा स्ट्रीट वेंडर्स से लेकर रिहायशी इलाकों में कोविड से बचने के लिये जागरूकता कार्यक्रमों भी रिकग्निशन मिली है.

पिछले साल लॉकडाउन की घोषणा होने के बाद अयोध्या जिला उत्तर प्रदेश का एकमात्र ऐसा जिला रहा है, जहां लोगों को खाने पीने की जरूरी वस्तुओं के साथ ही दूध और सब्जी भी उनके घर के सामने पहुंचाई गई. जिला प्रशासन की ओर से लोगों की आगे होकर मदद की गई. प्रशासन की ओर से भेजी गई गाड़ियों से लोगों को अपने घर के सामने सामान मिलता रहा. इससे दुकानों पर भीड़ नहीं एकत्र हुई और लोगों को घर से बाहर निकलने की जरूरत ही नहीं पड़ी. 

अयोध्या उत्तर प्रदेश का ऐसा जिला रहा, जिसमें शुरुआत के दिनों में लंबे समय तक कोई भी कोरोना संक्रमित नहीं पाया गया. सबसे पहला मामला जो मिला भी था वह हो छत्तीसगढ़ से आई हुई एक महिला से संबंधित था. इसी तरह से कोरोना संक्रमण की जांच कराने और लोगों को उपचार दिलाने के लिए अयोध्या जिले में ऐसे प्रबंध किए गए, जिन की सराहना अब स्कॉच फाउंडेशन ने भी की है.

स्कॉच फाउंडेशन 2003 से विभिन्न क्षेत्रों में सराहनीय कार्य करने वाले लोगों की पहचान कर उन्हें सम्मानित करती है पिछले साल कोरोनावायरस चुनौती मानते हुए फाउंडेशन ने इस क्षेत्र में किए गए उल्लेखनीय कार्यों के लिए लोगों के कामकाज का चयन करते हुए उन्हें सम्मानित किया है. 



न्यूज़24 हिन्दी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top