Assam Assembly Elections 2021: चुनावी रैली में बोले अमित शाह, अगले पांच साल में घुसपैठ का काम कर देंगे खत्म

News

नई दिल्लीः असम विधानसभा चुनाव में बीजेपी सत्ता में बने रहने के लिए एड़ी से चोटी तक जोर लगा रही है. पार्टी के दिग्गज नेता चुनाव में फतह पाने के लिए दिन रात एक किए हुए हैं, लेकिन जनता अपना नुमाइंदा किसे चुनेगी यह तो 2 मई को ही तस्वीर साफ होगी.

देश के गृहमंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता अमित शाह ने रविवार को असम के तिनसुकिया के मार्गेरिटा में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि अगले पांच साल में हमारी सरकार घुसपैठ करने का काम खत्म कर देगी. 

असम के लोग शांति की जिंदगी जी रहे हैं, ना यहां आतंकवाद और ना ही कोई आंदोलन है. बीजेपी की सरकार ने बीते पांच साल में पादर्शिता के साथ किया है. इस दौरान उन्होंने सरकार के विकास कार्यों को गिनाया. 

उन्होंने कहा कि हम जीत के लिए सिद्धांत से समझौता नहीं करते हैं. हमने असम को घुसपैठ मुक्त किया है. उन्होंने कहा कि हमने असम को बाढ़ मुक्त बनाने का फैसला किया है. मार्गेरिटा में रैली के बाद अमित शाह नाजिरा विधानसभा में बीजेपी की चुनावी जनसभा को संबोधित करेंगे. 

असम में दो चुनावी रैली करने के बाद अमित शाह बंगाल के खड़गपुर में जनसभा को संबोधित करेंगे. खड़गपुर में उनका कार्यक्रम शाम सवा 5 बजे हैं. रविवार को 2 चुनावी रैली करने के 2 दिन बाद गृह मंत्री अमित शाह एक बार फिर असम का दौरा करेंगे. शाह 17 मार्च को माजुली और सदिया में दो चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे. शाह माजुली सीट पर मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल के लिए प्रचार करेंगे तो सदिया से बोलिन चेतिया के लिए प्रचार करेंगे.

वहीं, सिर्फ अमित शाह ही नहीं बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा केंद्रीय गृह मंत्री के दौरे के अगले दिन सोमवार को असम में 3 चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे. नड्डा पार्टी उम्मीदवारों नबा कुमार डौली, पद्मा हजारिका और गणेश कुमार लिम्बु के प्रचार के लिए क्रमश: धाकुखाना, सौतिया और बारचाला विधानसभा क्षेत्रों का दौरा करेंगे.



न्यूज़24 हिन्दी