रात के अंधेरे में पत्नी की साड़ी से पति को बांधा, उसके सामने ही 4 लोगों ने लूट ली अस्मत

News

बारां: यहां एक दंपति के जीवन में ऐसा काला अध्याय जुड़ गया जिसे वे मरते दम तक नहीं भूल सकते. घर जा रहे दंपति को पहले अगवा कर कुछ लोग खेत में ले गए. वहां पति के सामने ही पत्नी की साड़ी खोल दी. पति चिल्लाता और गिड़गिड़ाता रहा पर वे बेरहम माने नहीं. फिर साड़ी से पति का हाथ-पैर और मुंह कसकर बांध दिया. फिर पति के सामने ही 4 लोगों ने मिलकर अस्मत लूट ली. 

मामला राजस्थान के बारां का है. यहां बीती रात करीब 10 बजे नेशनल हाईवे-90 पर वो हो गया जिसे देख और सुनकर खून खौल उठे. बाइक से अपने गांव लौट रहे दंपति के साथ एक बच्ची भी थी. उन्हें एक बुजुर्ग समेत 5 लोगों ने रोका. फिर बंधक बनाकर खेत में ले गए. वहां 4 लोगों ने अस्मत लूटी. 

बालाजी का दर्शन कर लौट रहा था दंपति

महिला अपने पति और 8 साल की बहन को लेकर घर लौट रही थी. ये लोग बालाजी के दर्शन करने गए थे. घर लौटने में देरी हो गई. रात के करीब 10 बज रहे थे. तभी छजावा बावड़ी के पास सुनसान इलाके में एक बुजुर्ग समेत 4 लोगों ने इन्हें रोका. बच्ची को सड़क पर छोड़ दंपति को बंधक बनाकर खेत में ले गए. 

पति चिल्लाता रहा ऐसा मत करो भइया

इधर जब आरोपी पति के सामने ही पत्नी को निर्वस्त्र करने लगे तो वो चिल्लाने लगा कि भइया ऐसा मत करो. वो उन लोगों के पांव पड़ने लगा पर वे नहीं माने. उन्होंने पति को पत्नी की साड़ी से कसकर बांध दिया और पति के सामने ही अस्मत लूट ली. 

ट्रक वाले को बच्ची ने बताई घटना

इधर बच्ची हाइवे पर खड़ी होकर रो रही थी. तब एक ट्रक वाला वहां से गुजरा. उसने बच्ची को रोता देख ट्रक रोक दिया. बच्ची ने उसे घटना के बारे में बताया. तब ट्रक वाले ने हाइवे से गुजर रहे दूसरे वाहनों को रोका. फिर लोगों ने मिलकर पुलिस को सूचित किया. 

इस हाल में मिले दंपति

जब पुलिस उन्हें ढूढती हुई खेत में पहुंची तो महिला बदहवास हालत में पड़ी थी. पति को बंधन से खोला गया. पुलिस ने तुरंत महिला को अस्पताल में भर्ती कराया. पति ने जानकारी दी कि महिला के पहले पति के बड़े भाई की साजिश थी. उसके नाम नामजब एफआईआर दर्ज हुई है. पुलिस आरोपियों को ढूंढने में लगी है. 



न्यूज़24 हिन्दी