21 साल की डोंगरी की डॉन के रडार पर थे बड़े टारगेट, बोली- जितना जोर है लगा ले…

News

दीपक दुबे, मुंबई: जिस नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो यानी  NCB के नाम से अच्छे-अच्छे ड्रग माफिया, ड्रग पैडलर्स, ड्रग में संलिप्त बॉलीवुड के सितारे तक खौफ खाते हों, भला उस एजेंसी से पंगा लेने की सोच भी कोई सपने में नहीं सकता. आपको जानकर बड़ी हैरानी होगी कि महज 21 साल की ड्रग क्वीन के नाम से मुम्बई में इकरा कुरैशी ने NCB की ही जासूसी करनी शुरू कर दी. 

अब तक आपने देखा और सुना होगा कि ड्रग तस्करों पर शिकंजा कसने के लिए NCB के जासूस फैलाती है लेकिन इस शातिर डोंगरी की ड्रग क्वीन इकरा ने न सिर्फ NCB के जांच अधिकारियों पर नज़र रखी, बल्कि नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के जॉनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े की हर मूवमेंट पर नजर रखने लगी. 

वानखेड़े कब ऑफिस जाते हैं, कब ऑफिस से निकलते हैं. रेड के लिए कितने लोगों ( टीम) के साथ जाते हैं, किससे मिलतें है और ड्रग के साथ किसे गिरफ्तार किया है, ये सब जानकारी जुटा रही थी. MD ड्रग के साथ गिरफ्तार इकरा कुरैशी न सिर्फ जासूसी करती बल्कि बलार्ड स्टेट में स्थित नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के ऑफिस तक भेष बदल कर जा पहुंची थी. जिसके फुटेज NCB के पास मौजूद है. 

NCB को जब इसकी भनक लगी कि उनके अधिकारियों पर कोई नजर रख रहा है. ऑफिस के अंदर व बाहर उसके बाद NCB ने उल्टा इकरा पर नजर रखी तो पता चला कि इसका जब से ब्वायफ्रेंड NCB के हत्थे चढ़ा और ड्रग मामले में गिरफ्तार हुआ तब से यह समीर वानखेड़े व उनकी टीम की जासूसी कर रही थी. न्यूज24 के पास मौजूद ऑडियो क्लिप में ये लड़की कहती है. जितना जोर है लगा ले सिर से लेकर एड़ी तक, कल ही शॉट खाएगा तू. 

डोंगरी की ड्रग क्वीन कैसे चढ़ी NCB के हत्थे 

इकरा सोनू पठान और एजाज साइको के जरिये ड्रग खरीदती और फिर मुम्बई के डिस्क व पब में ड्रग की सप्लाई किया करती थी. इकरा NCB के रडार पर कई महीनों से थी . दरसअल अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम गैंग से जुड़े ड्रग माफिया चिंकू पठान की गिरफ्तारी के बाद पूछताछ में इकरा का नाम सामने आया था जिसके बाद से ही इसकी तलाश जारी थी.

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के जॉनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े के मुताबिक यह ड्रग सप्लाई चेन में मुख्य रोल अदा करती थी. इसका ड्रग का नेटवर्क साउथ मुम्बई से बान्द्रा तक का है. यह नाईट क्लब्स ने ड्रग सप्लाई किया करती थी. आगे की जांच में और भी चीजें निकल कर सामने आएंगी. इसके लिए 5 दिन की NCB कस्टडी मिली है और पूछताछ जारी है. 

पहले मारने की धमकी देती है फिर मरवा भी देती 

NCB को पता चला है कि इसने 2,3 खबरियों को मरवाया भी है. खून से लथपथ पीड़ित की तश्वीरें भी NCB के पास मौजूद है. 6 मार्च को NCB ने डोंगरी इलाके में छापेमारी कर इकरा कुरैशी को गिरफ्तार किया. इसके घर से 52 ग्राम मेफेडरोने ड्रग बरामद किया. इकरा के खिलाफ NCB में 2 मामला पहले से दर्ज है यह दोनों केस में  वॉन्टेड  थी.  सके साथ ही नागपाड़ा पुलिस स्टेशन में मारपीट का मामला दर्ज है. 

इक़रा ड्रग की सप्लाई के लिए 5 से 6 महिलाओं को रखा था जिनके जरिये ड्रग की डिलिवरी करवाती थी. NCB सूत्रों के मुताबिक यह बहुत खतरनाक लड़की है जो भी इसके खिलाफ मुंह खोलता है उसको अपने ब्वॉयफ्रेंड के जरिये धमकी दिलवाती और मरवा देती है. इसके एक नही बल्कि 3 से 4 ब्वायफ्रेंड है. एक पति है जो इस वक्त सलाखों के पीछे है. वहीं इसके एक ब्वायफ्रेंड को पहले ही ड्रग मामले में NCB ने गिरफ्तार किया है. 

इंस्टाग्राम के जरिए ड्रग सप्लाई 

एजेंसी के रडार से बचने के लिए यह इंस्टाग्राम के जरिये ड्रग की सप्लाई करती थी यहां तक कि एक डील के लिए 2 दिन से ज्यादा मोबाइल नम्बर और फोन बदल देती जिससे कि एजेंसी इस तक पहुच न सके. 

NCB सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक गिरफ्तार इकरा कुरैशी एमडी ड्रग्स, एल एसडी और चरस का काला व्यापार बड़े पैमाने पर किया करती थी. जहां इसे डोंगरी इलाके में इसे लेडी डॉन के नाम से भी जाना जाता है.  

NCB ने इसके पास से डेढ़ लाख रुपये का MD ड्रग बरामद किया है और आगे की जांच कर रही कि इसका नेटवर्क आखिर कितना बड़ा है और कहा कहा यह ड्रग सप्लाई किया करती थी. NCB ने आज इकरा को कोर्ट में पेशी की थी जहां कोर्ट ने 5 दिनों की NCB कस्टडी में भेज दिया है. 



न्यूज़24 हिन्दी