हरियाणा में बीजेपी को बहुमत नहीं, जेजेपी कर सकती है कमाल, जानिए हरेक सीट का सबसे सटीक एग्जिट पोल

हरियाणा में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान हो चुके हैं और सभी महारथीयों भविष्य ईवीएम में क़ैद हो गया है. यहां 24 अक्टूबर को नतीजे आएँगे. इस बार हरियाणा में चौंकाने वाला परिणाम आ सकता है. मिशन 75 को लेकर चल रही बीजेपी के लिए उनके मंत्रियों की सीट बचाना मुश्किल हो गया है.

हालाँकि देश के मुख्यधारा के मीडिया ने अपने एग्जिट पोल में बीजेपी 70 पार सीटें दी है. वहीं सबसे बड़ी बात यहाँ इन मीडिया संस्थानों ने जेजेपी को आंका ही नहीं है.

द न्यूज़ रिपेयर के एग्जिट पोल के मुताबिक़ 90 विधानसभा क्षेत्रों का रुझान बता रहा है कि बीजेपी 70 सीट भी किसी भी सूरत में हासिल नहीं कर पाएगी. 

बीजेपी सिर्फ 53 सीटों पर जीत की दौड़ में शामिल है और मात्र 18 सीटों पर कमल पक्का खिलता हुआ नजर आ रहा है. 17 सीटों पर बीजेपी का पलड़ा भारी है. इस तरह सिर्फ 37 सीटों पर ही बीजेपी जीत सकती हैं.

द न्यूज़ रिपेयर का हरियाणा के लिए एग्जिट पोल

द न्यूज़ रिपेयर के एग्जिट पोल के मुताबिक़ इस बार बीजेपी के लिए हरियाणा में राह आसान नहीं है. इस बार बीजेपी बहुमत के आँकड़े को भी नहीं छू पाएगी. बीजेपी को इस बार 37 सीटें मिल सकती हैं. वहीं इस बार हरियाणा में कांग्रेस का कुछ सीटों में इज़ाफ़ा कर सकती है और इस बार 19 सीटों पर जीत दर्ज कर सकती है.

वहीं 10 महीने पहले अस्तित्व में आई जननायक जनता पार्टी 28 सीटें हासिल कर सकती हैं. चुनाव के ऐलान से पहले लग रहा था कि बीजेपी इस बार 75 पार कर सकती है लेकिन चुनाव प्रचार के दौरान ज़मीन पर बहुत कुछ बदला है. इसी का नतीजा है इस बार बीजेपी के लिए राह आसान नहीं है.

वहीं अभय चौटाला की पार्टी इनेलो इस बार मात्र एक सीट पर ही सिमट कर रह जाएगी. इनेलो के लिए ऐलनाबाद सीट से अभय चौटाला ही जीत दर्ज कर पाएँगे. वहीं आज़ाद और अन्य पार्टी के उम्मीदवार 5 सीटें जीत सकते हैं.

एक नज़र कौन कितनी सीटों पर किस पर है भारी

बीजेपी सीट
जीत 18
पलड़ा भारी 17
मुक़ाबले में 18
फ़ाइनल अनुमान 35-53

19 सीटें जीत सकती है कांग्रेस

लंबे समय से आंतरिक कलह से जूझ रही कांग्रेस के लिए सत्ता में वापसी करना तो मुश्किल है लेकिन लोकसभा चुनाव में खोई हुई साख ज़रूर बचा सकती है. कांग्रेस इस बार 8 से 15 सीट निकाल सकती है. कांग्रेस को 8 सीट पक्की है. जबकि 11 सीटों पर वह मजबूती के साथ चुनाव लड़ रही है और 10 सीटों पर वह मुकाबले में बनी हुई है. इस तरह कांग्रेस कुल 25 सीटों पर जीत की दौड़ में शामिल है.

कांग्रेस सीट
जीत 08
पलड़ा भारी 11
मुक़ाबले में 10
फ़ाइनल अनुमान 19-29

जेजेपी कर सकती है कमाल

जिस तरह साल 2015 में केजरीवाल की पार्टी आम आदमी पार्टी ने देश को चौंका दिया वैसे ही हरियाणा में दुष्यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी इस बार हरियाणा के नतीजे चौंकाने वाले कर सकती है. 9 महीने पहले अस्तित्व में आई पार्टी एक समय सबसे कमजोर मानी जा रही थी लेकिन हरियाणा के युवाओं ने चुनावी महीने में पूरी तरह से हवा बदल दी है.

पूर्व सांसद दुष्यंत चौटाला की अगुवाई में जेजेपी 8 सीटों पर साफ तौर पर सबसे आगे है. जबकि 19 सीटों पर उसका पलड़ा भारी नज़र आ रहा है और 17 सीटों पर वह मुकाबले में बनी हुई है. इस तरह जेजेपी 43 सीटों पर मुकाबले में हैं.

जेजेपी सीट
जीत 08
पलड़ा भारी 19
मुक़ाबले में 17
फ़ाइनल अनुमान 27-43

 

इनेलो को मात्र एक सीट हो सकती है नसीब

दुष्यंत चौटाला के इनेलो से निष्कासन के बाद से इनेलो का पतन लगातार जारी रहा है. 2014 में 19 विधायकों के साथ विपक्ष का पद सँभालने वाली इनेलो के विधायक एक-एक करके बीजेपी और अन्य पार्टी में शामिल होते गए. विधानसभा चुनाव-2019 तक पहुँचते-पहुँचते इनेलो मात्र 5 विधायकों पर सिमट गई.

इनेलो 2019 विधानसभा चुनाव में मात्र एक से दो सीटों पर सिमट सकती है. क्योंकि इनेलो 2 ही सीटों पर मुक़ाबले में है. वहीं 7 सीटों पर निर्दलीय और 2 सीटों पर गोपाल कांडा की हलोपा बड़ी पार्टियों को कांटे की टक्कर दे रहे हैं.

इनेलो सीट
जीत 01
पलड़ा भारी 01
मुक़ाबले में 02
फ़ाइनल अनुमान 01-02
अन्य+ सीट
जीत 02
पलड़ा भारी 05
मुक़ाबले में 07
फ़ाइनल अनुमान 05-07

 

ज़िलेवार समझिए कौन किसको टक्कर दे रहा है:-

पंचकूला-यहां कालका और पंचकूला में 2014 में बीजेपी ने जीत दर्ज की थी, लेकिन इस बार दोनों ही सीटों पर बीजेपी को कांग्रेस के उम्मीदवारों से कड़ी चुनौती मिल रही है.

कालका में जहां बीजेपी की लतिका शर्मा को कांग्रेस के प्रदीप चौधरी कड़ी टक्कर दे रहे हैं. वहीं पंचकूला में बीजेपी के ज्ञान चंद गुप्ता को कांग्रेस के चंद्रमोहन बिश्नोई कड़ी चुनौती दे रहे हैं. यहां पर बीजेपी के लिए मामला फंसता हुआ दिखाई दे रहा है.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो
कालका लतिका शर्मा, बीजेपी प्रदीप चौधरी, कांग्रेस सतिंद्र टोनी, इनेलो
पंचकूला ज्ञान चंद गुप्ता, बीजेपी चंद्रमोहन बिश्नोई, कांग्रेस अजय गौतम, जेजेपी करुणदीप चौधरी, इनेलो

अंबाला- यहां चारों सीटों पर बीजेपी का कब्जा था लेकिन इस बार एक मौजूदा विधायक की टिकट काट दी है वहीं एक सीट से सांसद चुने जा चुके हैं. जिस वजह से नया उम्मीदवार उतारा गया है. नारायणगढ़ सीट पर इस बार बीजेपी ने सुरेंद्र राणा को टिकट दिया है, लेकिन वो ज्यादा कड़ी टक्कर दे नहीं पा रहे हैं. यहां पर कांग्रेस की शैली चौधरी प्रत्याशी है. और वो अच्छी बढ़त बनाए हुए हैं.

वहीं अंबाला कैंट में बीजेपी अच्छी स्थिति में हैं. यहां पर जीत का अंतर भी ज्यादा हो सकता है. यहां पर अनिल विज अपनी जीत को लेकर निश्चित है. हालांकि अनिल विज को भी कांग्रेस की वीन सिंगला से टक्कर मिल रही है.

अंबाला शहर की बात की जाए तो यहां पर भी बीजेपी के असीम गोयल को निर्दलीय प्रत्याशी निर्मल सिंह टक्कर दे रहे हैं. निर्मल सिंह को कांग्रेस ने टिकट नहीं दिया था जिसके बाद वो आजाद प्रत्याशी के तौर पर चुनावी मैदान में उतरे हुए हैं. इधर बीजेपी ने मुलाना सीट पर अपनी विधायक संतोष सारवान की टिकट काटकर इनेलो की सरकार में विधायक रहे राजबीर बराड़ा को टिकट दिया है. यहां पर बीजेपी के राजबीर बराडा को कांग्रेस के वरुण चौधरी से कड़ी टक्कर मिल रही है.

ये भी पढ़ें:  रिपेयर: राहुल गांधी ने इतिहास गलत नहीं बताया, कोका कोला के मालिक ने सड़क किनारे बेची है शिकंजी
विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
नारायणगढ़ सुरेंद्र राणा श्रीमती शैली राम सिंह कोडवा जगमाल सिंह
अंबाला कैंट अनिल विज वीनू सिंगला गुरपाल माजरा ओमकार सिंह निर्मल सिंह, आजाद
अंबाला सिटी असीम गोयल जसबीर मल्लौर हरपाल सिंह चित्रा सरवारा, आजाद
मुलाना राजबीर बराड़ा वरुण चौधरी अमरनाथ बग्गन दाया रानी

यमुनानगर- यहां पर चारों ही सीटों पर बीजेपी आज भी अच्छी स्थिति में हैं. हालांकि दो सीटों पर बीजेपी को टक्कर मिल रही है. जबकि एक सीट पर इनेलो टक्कर दे रही है. यहां यमुनानगर से बीजेपी के घनश्याम दास को कांग्रेस के निर्मल सिंह टक्कर दे रहें है. सढौरा में बीजेपी के बलवंत सिंह को कांग्रेस की रेण बाला और इनेलो की सुषमा चौधरी टक्कर दे रही हैं.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
सढौरा बलवंत सिंह रेणु बाला कुसुम शेरवाल सुषमा चौधरी
जगाधरी कंवरपाल गुर्जर अकरम खान अर्जुन सिंह बालाजी शर्मा
यमुनानगर घनश्याम दास निर्मल सिंह शैलेष त्यागी दिलबाग सिंह
रादौर कर्णदेव कंबोज बिशन सिंह सैनी मांगे राम राजबीर कंबोज

कुरुक्षेत्र- यहां पर चार सीटों में से तीन बीजेपी ने जीती थी, एक सीट पर इनेलो का कब्जा था, लेकिन आखिर में पेहवा से विधायक सरदार जसविंद्र सिंह संधू का निधन हो गया था, उनके बेटे भी बीजेपी में शामिल हो गए थे. अब कुरुक्षेत्र की चारों सीटों पर मुकाबला कड़ा हो गया है. यहां पर तीन सीटों पर कांग्रेस कड़ी टक्कर दे रही है जबकि एक सीट पर जेजेपी कड़ी टक्कर दे रही है.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
लाडवा पवन सैनी मेवा सिंह संतोष दहिया सपना बड़शामी
शाहाबाद कृष्ण बेदी अनिल धंतौड़ी रामकरण काला संदीप
थानेसर सुभाष सुधा अशोक अरोड़ा योगेश शर्मा कुलवंती सैन
पेहवा संदीप सिंह मनदीप चट्ठा रणधीर सिंह मंजीत सिंह

कैथल- पूंडरी में एक बार फिर दो निर्दलीय प्रत्याशियों के बीच कांटे की टक्कर है. 2014 में विधायक बने दिनेश कौशिक और रणधीर गोलन के बीच चुनावी मुकाबला है. इधर कलायत में मुकाबला तिकोना है. यहां पर कांग्रेस के जयप्रकाश, बीजेपी की कमलेश ढांडा और जेजेपी के सतविंद्र राणा के बीच चुनावी दंगल है. कैथल में चुनावी मुकाबला कड़ा हो गया है. यहां पर रणदीप सुरजेवाला और बीजेपी के लीलाराम गुर्जर के बीच सीधा मुकाबला है. इधर गुहला की सीट पर कांग्रेस और जेजेपी की कड़ी टक्कर है.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
गुहला रवि तारावांली दिल्लू राम ईश्वर सिंह राम कुमार
कलायत कमलेश ढांडा जय प्रकाश सतविंद्र राणा ओम प्रकाश ढांडा
कैथल लीलाराम गुर्जर रणदीप सुरजेवाला रामफल खुराना अनिल तंवर
पुंडरी वेदपाल एडवोकेट सतबीर जांगड़ा राजेश ढुल ज्ञान सिंह गुज्जर रणधीर गोलन,

दिनेश कौशिक

करनाल- मुख्यमंत्री का विधानसभा ज़िले में मुख्यमंत्री जीत रहे हैं. यहां पर बीजेपी बढ़त बनाए हुए हैं. यहां पर असंध सीट को छोड़कर बीजेपी अच्छी हालत में है. असंध में बीजेपी के बख़्शीश सिंह को कांग्रेस के शमशेर विरक्त और जेजेपी के बृज शर्मा सेकड़ा मुक़ाबला चल रहा है.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
नीलोखेड़ी भगवान दास कंबीरपंथी बंताराम बाल्मीकि भीम सिंह सोनिका गिल
इंद्री रामकुमार कश्यप नवजोत कश्यप गुरदेव रंभा प्रदीप कंबोज राकेश कंबोज
करनाल मनोहर लाल त्रिलोचन सिंह तेज बहादुर प्रदीप हुड्डा
घरौंडा हरविंद्र कल्याण अनिल राणा उमेद कश्यप मनीदर राणा
असंध बख्शीश सिंह शमशेर विर्क बृज शर्मा धर्मबीर पाढ़ा

पानीपत- यहां पर पानीपत शहरी सीट पर बीजेपी प्रत्याशी प्रमोद विज की कोई टक्कर में ही दिखाई नहीं दे रहा है, जबकि पानीपत ग्रामीण सीट पर जेजेपी ने बड़ी बढ़त बनाई हुई है. यहां पर बीजेपी के महिपाल ढांडा और जेजेपी के देवेंद्र कादियान के बीच टक्कर है. समालखा में कांग्रेस के धर्मसिंह छोक्कर बीजेपी के प्रत्याशी शशिकांत कौशिक पर हावी हो सकते हैं. इधर इसराना में बीजेपी प्रत्याशी कृष्णलाल पंवार के विरोध के चलते कांग्रेस प्रत्याशी बलवीर बाल्मीकि मजबूत स्थिति में है.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
पानीपत ग्रामीण महिपाल ढांडा ओपी जैन देवेंद्र कादियान कुलदीप राठी
पानीपत शहरी प्रमोद विज संजय अग्रवाल जयदेव नोल्था
इसराना कृष्णलाल पंवार बलवीर बाल्मीकि दयांचद उरलाना रवि कल्सन
समालखा शशिकांत कौशिक धर्मसिंह छौक्कर ब्रह्मपाल प्रेम लता छोक्कर

सोनीपत- यहां पर छह में से चार सीटों पर बीजेपी और कांग्रेस की आमने-सामने कड़ी टक्कर है जबकि दो सीट पर जेजेपी टक्कर दे रही है. गन्नौर की सीट पर बीजेपी की निर्मला चौधरी और कांग्रेस के कुलदीप शर्मा के बीच टक्कर है. जबकि राई में बीजेपी के मोहन लाल कौशिक और कांग्रेस के जयतीर्थ दहिया के बीच मुकाबला है. इधर खरखौदा में बीजेपी की बजाय कांग्रेस और जेजेपी के बीच सीधी टक्कर है. सोनीपत सीट पर बीजेपी की कविता जैन और कांग्रेस के सुरेंद्र पंवार के बीच टक्कर है. इधर गोहाना में कांग्रेस के जगबीर मलिक, बीजेपी के तीर्थ राणा और राजकुमार सैनी के बीच मुकाबला है. बरौदा विधानसभा सीट पर बीजेपी के योगेश्वर दत्त, कांग्रेस के श्रीकृष्ण हुड्डा और जेजेपी के भूपेंद्र मलिक के बीच टक्कर है.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
गन्नौर निर्मला चौधरी कुलदीप शर्मा रणधीर मलिक बिजेंद्र शेखुपूर
राई मोहन लाल कौशिक जयतीर्थ दहिया अजीत अंतिल इंद्रजीत दहिया
खरखौदा मीना नरवाल जयवीर बाल्मीकि पवन खरखौदा विनोद चौहान
सोनीपत कविता जैन सुरेंद्र पंवार अमित बिंदल बाल किशन शर्मा
गोहाना तीर्थ सिंह राणा जगबीर मलिक कुलदीप मलिक ओम प्रकाश गोयल राजकुमार सैनी
बरौदा योगेश्वर दत्त श्रीकृष्ण हुड्डा भूपेंद्र मलिक जोगेंद्र मलिक

जींद- यहां पर जुलाना विधानसभा सीट पर बीजेपी के परविंद्र ढुल और जेजेपी के अमरजीत ढांडा के बीच टक्कर है. जबकि सफीदो सीट पर बीजेपी के बच्चन सिंह आर्य और कांग्रेस के सुभाष देसवाल के बीच मुकाबला है. जींद सीट पर बीजेपी के कृष्ण मिड्डा और जेजेपी के महावीर गुप्ता के बीच टक्कर है. उचाना सबसे हॉट सीट हो चुकी है. यहां पर बीजेपी के प्रेमलता और जेजेपी के दुष्यंत चौटाला के बीच कांटे की टक्कर है. नरवाना रिजर्व सीट पर बीजेपी की संतोष दनौदा और जेजेपी के राम निवास के बीच कड़ी टक्कर है.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
जुलाना परविंद्र ढुल धमेंद्र ढुल अमरजीत ढांडा अमित मलिक
सफीदो बच्चन सिंह सुभाष देसवाल दयानंद कुंडू जोगेंद्र कालवा
जींद कृष्ण मिड्ढा अंशुल सिंगला महावीर गुप्ता विजेंद्र रेढू
उचाना प्रेमलता बलराम कटवाल दुष्यंत चौटाला सतपाल गेंदखेड़ा
नरवाना संतोष दनौदा विधा रानी राम निवास बाल्मीकि सुशील कुमार

फतेहाबाद- जिले की तीन सीटों पर चुनावी मुकाबला कड़ा हो गया है. टोहाना की सीट पर इस बार यहां पर बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला को कड़ी चुनौती मिल रही है. यहां पर जेजेपी के देवेंद्र बबली कड़ी टक्कर सुभाष बराला को दे रहे हैं. जबकि फतेहाबाद सीट पर बीजेपी के दूड़ा राम और जेजेपी के डॉ. विरेंद्र सिवाच के बीच मुकाबला कड़ा हो गया है. रतिया सीट पर मुकाबला बीजेपी के लक्ष्मण नप्पा और कांग्रेस के जनरैल सिंह के बीच है.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
टोहाना सुभाष बराला परमवीर सिंह देवेंद्र सिंह बबली राजपाल सैनी
फतेहाबाद दूड़ा राम प्रहलाद सिंह डॉ. विरेंद्र सिवाच सुमन सिवाच
रतिया लक्ष्मण नप्पा जनरैल सिंह मंजू बाजीगर कुलविंद्र कुणाल

सिरसा- यहाँ की पांच सीटों पर इस बार का चुनावी गणित बिगड़ सकता है. यहां पर पांच में से दो सीटों पर निर्दलीय प्रत्याशी हावी हो रहे हैं. कालांवाली सीट पर बीजेपी के बलकौर सिंह और कांग्रेस के शीशपाल केहरवाला के बीच टक्कर है. जबकि डबवाली में बीजेपी के आदित्य चौटाला और कांग्रेस के अमित सिहाग के बीच कांटे की टक्कर है. रानिया में दो निर्दलीय प्रत्याशियों के बीच मुकाबला हो रहा है. यहां पर कांग्रेस से टिकट ना मिलने पर निर्दलीय चुनाव लड़ रहे रणजीत सिंह और हलोपा के गोबिंद कांडा के बीच चुनावी मुकाबला है. सिरसा में मुकाबला तिकोना हो गया है. यहां पर बीजेपी, हलोपा और निर्दलीय के बीच मुकाबला है. बीजेपी के प्रदीप रातुसरिया, हलोपा के गोपाल कांडा और निर्दलीय प्रत्याशी गोकुल सेतिया के बीच है. जबकि ऐलनाबाद सीट पर इनेलो के अभय चौटाला, कांग्रेस के भरत सिंह बैनीवाल और बीजेपी के पवन बैनीवाल के बीच मुकाबला है.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
कालांवाली बलकौर सिंह शीशपाल केहरवाला सरदार निर्मल सिंह राजेंद्र देसुजोधा
डबवाली आदित्य चौटाला अमित सिहाग सरबजीत सिंह सीता राम
रानियां रामचंद्र कंबोज विनीत कंबोज कुलदीप करीवाला अशोक वर्मा रणजीत चौटाला /

गोबिंद कांडा

सिरसा प्रदीप रातुसरिया होशियारी लाल शर्मा राजेंद्र गनेरीवाला गोपाल कांडा /

गोकुल सेतिया

ऐलनाबाद पवन बैनीवाल भरत बैनीवाल ओपी सिहाग अभय चौटाला

हिसार- जिले की सातों सीटों पर इस बार मुकाबला पूरा रोचक है. यहां पर आदमपुर में बीजेपी की सोनाली फौगाट और कांग्रेस के कुलदीप बिश्नोई के बीच आमने-सामने की टक्कर है. जबकि उकलाना में मुकाबला त्रिकोणीय हो गया है. यहां पर जेजेपी के अनूप धानक, बीजेपी की आशा रानी और निर्दलीय प्रत्याशी नरेश सेलवाल के बीच मुकाबला है. इस बार वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु की नारनौंद सीट भी फंसी हुई है. यहां पर उनको जेजेपी उम्मीदवार राम कुमार गौतम से कड़ी चुनौती मिल रही है. हांसी मं मुकाबला तिकोना हो गया है. यहां पर बीजेपी के विनोद भ्याणा, जेजेपी के राहुल मक्कड़ और निर्दलीय प्रत्याशी प्रेम सिंह मलिक के बीच मुकाबला है. बरवाला में बीजेपी के सुरेंद्र पूनिया और जेजेपी के जोगी राम सिहाग के बीच सीधा मुकाबला है. जबकि हिसार और नलवा में मुकाबला बीजेपी और कांग्रेस के बीच है.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
आदमपुर सोनाली फौगाट कुलदीप बिश्नोई रमेश गोदारा राजेश गोदारा
उकलाना आशा रानी बाला देवी अनूप धानक लतिका टांक नरेश सेलवाल
नारनौंद कैप्टन अभिमन्यु बलजीत सिहाग राम कुमार गौतम जस्सी पेटवाड़
हांसी विनोद भ्याणा ओपी पंघाल राहुल मक्कड़ कुलबीर बामल प्रेम सिंह मलिक
बरवाला सुरेंद्र पूनिया भूपेंद्र गंगूर जोगीराम सिहाग रघुबीर खोका
हिसार कमल गुप्ता राम निवास राडा जितेंद्र कुमार प्रमोद बागड़ी
नलवा रणवीर गंगवा रणधीर पनिहार विरेंद्र चौधरी सतपाल काजला

भिवानी- लोहारु में बीजेपी के जेपी दलाल और कांग्रेस के सोमवीर श्योराण के बीच मुकाबला है जबकि भिवानी में मुकाबला तिकोना है. भिवानी में बीजेपी, कांग्रेस और जेजेपी की टक्कर है. इधर तोशाम में बीजेपी और कांग्रेस के बीच टक्कर है. तोशाम में बीजेपी के शशिरंजन परमार है जबकि कांग्रेस की किरण चौधरी चुनावी दंगल में हैं. वहीं बवानीखेड़ा में बीजेपी की सीट फंस गई है. यहां पर कांग्रेस के रामकिशन फौजी कड़ी टक्कर दे रहे हैं.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
लोहारु जेपी दलाल सोमवीर श्योराण अल्का आर्य राज सिंह गागड़वास
भिवानी घनश्याम सर्राफ अमर सिंह शिव शंकर भारद्वाज अनिल कठपालिया
तोशाम शशिरंजन परमार किरण चौधरी सीता राम सिंघल कमला रानी
बवानीखेड़ा विशंबर बाल्मीकि रामकिशन फौजी राम किशन वैध धर्मो देवी

चरखी-दादरी- जिले में दोनों विधानसभा सीटों पर जेजेपी कड़ी चुनौती दे रही है. हालांकि दोनों ही सीटों पर तीन-तीन उम्मीदवार कड़ी दावेदारी जता रहे हैं. बाढ़ड़ा में बीजेपी के सुखविंद्र मांडी, कांग्रेस के रणबीर महेंद्रा और जेजेपी की नैना चौटाला के बीच मुकाबला है. वहीं दादरी में बीजेपी की बबीता फौगाट, जेजेपी के सतपाल सांगवान और निर्दलीय प्रत्याशी सोमवीर सांगवान के बीच टक्कर है.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
बाढड़ा सुखविंद्र मांडी रणबीर महेंद्रा नैना चौटाला विजय पंचगामा
दादरी बबीता फौगाट नृपेंद्र सांगवान सतपाल सांगवान नीतिन जांगू सोमबीर सांगवान

रोहतक- जिले की सीटों पर चुनावी माहौल गरम है. यहां पर महम सबसे हॉट सीट बनी हुई है. यहां पर मुकाबला तिकोना है. बीजेपी के शमशेर खरकड़ा, कांग्रेस के आनंद दांगी और निर्दलीय प्रत्याशी बलराज कुंडू के बीच मुकाबला कड़ा है. जबकि गढ़ी सांपला किलोई में कांग्रेस के भूपेंद्र हुड्डा और बीजेपी के सतीश नांदल के बीच मुकाबला है. रोहतक में मनीष ग्रोवर की सीट इस बार फंसती नजर आ रही है. मनीष ग्रोवर को कांग्रेस के बीबी बतरा से कड़ी चुनौती मिल रही है. इधर कलानौर आरक्षित सीट पर बीजेपी के राम अवतार बाल्मीकि और कांग्रेस की शकुंतला खटक के बीच मुकाबला है.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
महम शमशेर खरकड़ा आनंद दांगी हरज्ञान मोखरा बलराज कुंडू
गढ़ी सांपला किलोई सतीश नांदल भूपेंद्र हुड्डा संदीप हुड्डा कृष्ण कौशिक
रोहतक मनीष ग्रोवर बीबी बतरा राजेश सैणी पुनीत मायना
कलानौर राम अवतार बाल्मीकि शकुंतला खटक राजेंद्र बाल्मीकि बलराज खासा

झज्जर- यहाँ चार में से दो सीटों पर यहां जेजेपी टक्कर में है. बहादुरगढ़ में बीजेपी के नरेश कौशिक और कांग्रेस के राजेंद्र जून के बीच मुकाबला है जबकि बादली में ओपी धनखड़ की सीट फंस गई है. यहां पर बीजेपी के ओपी धनखड़, कांग्रेस के कुलदीप वत्स और जेजेपी के संजय कबलाना के बीच मुकाबला है. इधर झज्जर में भी मुकाबला तिकोना हो गया है. यहां पर बीजपी के राकेश कुमार, कांग्रेस की गीता भुक्कल और जेजेपी के नसीब के बीच मुकाबला है. जबकि बेरी में मुकाबला तिकोना है. यहां पर कांग्रेस के रघुवीर कादियान, बीजेपी के विक्रम सिंह और पंचायती उम्मीदवार अजय अहलावत के बीच मुकाबला है.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
बहादुरगढ़ नरेश कौशिक राजेंद्र जून संजय दलाल नफे सिंह राठी
बादली ओपी धनखड़ कुलदीप वत्स संजय कबलाना महाबीर गुलिया
झज्जर राकेश कुमार गीता भुक्कल नसीब बाल्मीकि जोगेंद्र सूरजगढ़
बेरी विक्रम कादयान रघुबीर कादियान उपेंद्र कादयान ओम पहलवान अजय अहलावत

महेंद्रगढ़- जिले की चार में से दो सीटो पर जेजेपी टक्कर में नजर आ रही है. अटेली में बीजेपी के सीता राम, कांग्रेस के राव अर्जुन और जेजेपी के सम्राट यादव के बीच मुकाबला तिकोना है. वहीं महेंद्रगढ़ में रामबिलास शर्मा को कड़ी चुनौती मिल रही है. नारनौल में ओमप्रकाश यादव और राव नरेंद्र सिंह के बीच मुकाबला है. वहीं नांगल चौधरी में मुकाबला बीजेपी के अभय यादव और जेजेपी के मूला राम के बीच है.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
अटेली सीता राम यादव राव अर्जुन सिंह सम्राट यादव नीतू यादव
महेंद्रगढ़ रामबिलास शर्मा राव दान सिंह राव रमेश पालड़ी राजेंद्र शेखावत संदीप श्योराण
नारनौल ओमप्रकाश यादव राव नरेंद्र सिंह कमलेश सैनी राजेश सिहार
नांगल चौधरी अभय यादव राजा राम गोलवा मूला राम सुमन विजेंद्र गोठड़ी

रेवाड़ी- जिले की विधानसभा सीटों पर चुनावी हाल देखें तो यहां पर सभी सीटों पर बीजेपी टक्कर में है. बावल में बीजेपी के बनवारी लाल और कांग्रेस के एम एल रंगा के बीच कांटे की टक्कर है. वहीं कोसली में मुकाबला त्रिकोणीय है. यहां पर बीजेपी, कांग्रेस और जेजेपी के बीच है. रेवाड़ी सीट पर इस बार मुकाबला तिकोना है, लेकिन रणधीर कापड़ीवास सभी को कड़ी टक्कर दे रहे हैं.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
बावल डॉ. बनवारी लाल एम एल रंगा श्याम सुंदर संपत सिंह दाहिनवाल
कोसली लक्ष्मण यादव यादुवेंद्र यादव रामफल कोसलिया किरणपाल यादव
रेवाड़ी सुनील मुसेपुर चिरणजीव राव मलखान सिंह कमला शर्मा रणधीर कापड़ीवास

गुरुग्राम- जिले की चार सीटों पर मुकाबला इस बार रोचक है. पटौदी में बीजेपी के सत्यप्रकाश जरावता और जेजेपी के दीपचंद के बीच है. जबकि बादशाहपुर में मुकाबला तिकोना है. यहां पर राकेश दौलताबाद खेल बिगाड़ सकते हैं. यहां पर बीजेपी के मनीष यादव, कांग्रेस के कमलवीर यादव और निर्दलीय प्रत्याशी राकेश दौलतबाद दंगल में हैं. जबकि गुरुग्राम में सुधीर सिंगला, कांग्रेस के सुखबीर कटारिया और निर्दलीय प्रत्याशी गजेसिंह कबलाना चुनावी दंगल में मुकाबले में हैं. सोहना में सीधा मुकाबला बीजेपी और जेजेपी के बीच है.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
पटौदी सत्यप्रकाश जरावता सुधीर चौधरी दीप चंद सुखबीर तंवर
बादशाहपुर मनीष यादव कमलवीर यादव ऋषि राज राणा सोनू ठाकरान राकेश दौलताबाद
गुरुग्राम सुधीर सिंगला सुखबीर कटारिया सुबेसिंह यादव वीपी जांगड़ा गजेसिंह कबलाना
सोहना संजय सिंह डॉ. शमसुद्दीन रोहताश खटाना रोहताश खटाना

 

 

मेवात-यहाँ की नूंह सीट पर मुकाबला तिकोना है. यहांपर बीजेपी के जाकिर हुसैन, कांग्रेस के आफताब अहमद और जेजेपी के तैय्यब हुसैन के बीच मुकाबला है. जबकि फिरोजपुर झिरका में बीजेपी के नसीम अहमद और कांग्रेस के मामन खान के बीच मुकाबला है. इधर पुन्हाना मुकाबला बीजेपी की नोक्षम चौधरी और कांग्रेस के इलियास मोहम्मद के बीच है.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
नूंह जाकिर हुसैन आफताब अहमद तैय्यब हुसैन नासिर हुसैन
फिरोजपुर झिरका नसीम अहमद मामन खान अमन अहमद अयूब खान
पुन्हाना नोक्षम चौधरी इलियास मोहम्मद इकबाल जेलदार सुबान खान

पलवल- यहां पर हथीन सीट पर मुकाबला तिकोना है. यहां पर बीजेपी के प्रवीण डागर, कांग्रेस के मोहम्मद इसरायल और जेजेपी के हर्ष कुमार के बीच मुकाबला है. वहीं होडल में बीजेपी के जगदीय नेय्यर और उदयभान के बीच मुकाबला है. पलवल में बीजेपी के दीपक मगंला और कांग्रेस के करण दलाल के बीच मुकाबला है. वहीं पृथला में मुकाबला तिकोना है. यहां पर बीजेपी के सोहनपाल, कांग्रेस के रघुबीर तेवतिया और निर्दलीय प्रत्याशी मैनपाल रावत के बीच है.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
हथीन प्रवीण डागर मोहम्मद इसरायल हर्ष कुमार रानी रावत तैय्यब हुसैन, बीएसपी
होडल जगदीश नैय्यर उदय भान सतबीर तंवर रामपाल लिखी
पलवल दीपक मंगला करण दलाल गयालाल चंट सतपाल देसवाल
पृथला सोहनपाल छौक्कर रघुबीर तेवतिया नरेंद्र अत्री मैनपाल रावत

फरीदाबाद जिले की सभी सीटों पर हाल जानते हैं. यहां पर सभी सीटों पर मुकाबला बीजेपी और कांग्रेस के बीच है. यहां पर तीसरी कोई सी पार्टी हावी होती नहीं दिखाई दे रही है.

विधानसभा सीट बीजेपी कांग्रेस जेजेपी इनेलो आजाद
फरीदाबाद एनआईटी नगेंद्र भड़ाना नीरज शर्मा तेजपाल डागर जगजीत कौर चंद्र भाटिया
बड़खल सीमा त्रिखा विजय प्रताप सिंह इसलुमद्दीन अजय भड़ाना
बल्लभगढ़ मूलचंद शर्मा आनंद कौशिक सुरेश वर्मा रोहताश जाखड़
रीदाबाद नरेंद्र गुप्ता लखन सिंगला कुलदीप तेवतिया सोमेश चंदेला
तिगांव राजेश नागर ललित नागर प्रदीप चौधरी उमेश भाटी

कुल मिलाकर कहा जाए तो बीजेपी के लिए इस बार 75 पार का नारा पूरी तरह से फेल हो सकता है. इस बार कांग्रेस अंतर्कलह से उभरते हुए अच्छा प्रदर्शन कर सकती है तो वहीं नई पार्टी अपने पहले विधानसभा चुनाव में 2015 दिल्ली का चुनाव भी दोहरा सकती है. हालाँकि नतीजे 24 अक्टूबर को आएँगे स्थिति सब साफ़ हो जाएगा.

अभी-अभी

दिल्ली के रोहणी इलाके में लड़की का अपहरण कर गोली मारकर हत्या, जाँच में जुटी पुलिस

देश की राजधानी दिल्ली के रोहणी इलाके से एक लड़की का अपहरण करके गोली मारकर हत्या

दिल्ली की अनाज मंडी इलाक़े में लगी भीषण आग, 31 लोगों की मौत, 50 से ज़्यादा लोगों को बचाया गया

दिल्ली के रानी झांसी रोड पर रविवार सुबह अनाज मंडी में भीषण आग लग गई.

जेजेपी नेता अजय चौटाला का बड़ा बयान, कहा-नैना नहीं बनेगी मंत्री, इन विधायकों को बनाएंगे मंत्री

जेजेपी नेता अजय चौटाला ने कहा कि हरियाणा सरकार में उनकी पत्नी नैना चौटाला मंत्री

मारे गए आईएसआई सरगना अबू बकर अल बगदादी की बहन को तुर्की फौजों ने सीरिया में गिरफ्तार किया

आतंकी संगठन आईएसआईएस के प्रमुख अबू बक्र अल-बगदादी की बहन को तुर्की ने सोमवार को

दिल्ली में प्रदुषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्य सरकारों को लताड़ा, कहा-ऐसे वातावरण में कोई कैसे जीएगा

भारत में प्रदूषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने चिंता ज़ाहिर करते हुए मोदी सरकार और

हरियाणा में नए साल पहले लाखों सरकारी कर्मचारियों को सरकार का तोहफ़ा, इस भत्ते में की गई बढ़ोतरी

हरियाणा के लाखों सरकारी कर्मचारियों को नए साल से पहले बीजेजेपी सरकार ने तोहफा दिया

हरियाणा: करनाल में 5 साल की मासूम बच्ची 50 फ़ीट गहरे बोरवेल में गिरी, बचाव अभियान जारी

हरियाणा के करनाल में एक पांच साल की बच्ची खेलते हुए 50 फीट गहरे बोरवेल

हरियाणा में क़रीब 45000 विद्यार्थियों को मिलेगी वाहन सुविधा, जानिए क्या है यह योजना

हरियाणा में शिक्षा विभाग ने उन बच्चों को लेकर एक अहम कदम उठाया है जो

हरियाणा के इन ज़िलों में 4 और 5 नवंबर को स्कूल रहेंगे बंद, प्रदूषण का सबसे ज़्यादा असर पड़ रहा है बच्चों पर

दिल्ली एनसीआर में प्रदूषण के कारण एयर क्वॉलिटी बहुत खराब श्रेणी की पहुंच गई है.

जासूसी कांड पर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर लगाया आरोप, प्रियंका गांधी को भी मिला व्हाट्सएप मैसेज

व्हाट्सएप जासूसी कांड को लेकर कांग्रेस ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा है.

फेसबुक पर हमें पसंद करें..