चंद्रयान-2: चंद्रमा की सतह पर उतरते समय विक्रम लैंडर से संपर्क टूटा, डेटा का इंतजार, पीएम मोदी ने इसरो प्रमुख गले लगाया

‘चंद्रयान-2’ के लैंडर ‘विक्रम’ का चांद पर उतरते समय जमीनी स्टेशन से संपर्क टूट गया. संपर्क तब टूटा जब लैंडर चांद की सतह से 2.1 किलोमीटर की ऊंचाई पर था.

विक्रम लैंडर को रात लगभग एक बजकर 38 मिनट पर चांद की सतह पर लाने की प्रक्रिया शुरू की गई, लेकिन चांद पर नीचे की तरफ आते समय चंद्र सतह से 2.1 किलोमीटर की ऊंचाई पर जमीनी स्टेशन से इसका संपर्क टूट गया.

‘विक्रम’ ने ‘रफ ब्रेकिंग’ और ‘फाइन ब्रेकिंग’ चरणों को सफलतापूर्वक पूरा कर लिया, लेकिन ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ से पहले इसका संपर्क धरती पर मौजूद स्टेशन से टूट गया.

इस दौरान भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने ट्वीट किया, ‘माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज (7 सितंबर 2019) सुबह आठ बजे इसरो के नियंत्रण केंद्र से राष्ट्र को संबोधित करेंगे.’

इसरो अध्यक्ष के. सिवन इस दौरान कुछ वैज्ञानिकों से गहन चर्चा करते दिखे.

उन्होंने घोषणा की कि ‘विक्रम’ लैंडर को चांद की सतह की तरफ लाने की प्रक्रिया योजना के अनुरूप और सामान्य देखी गई, लेकिन जब यह चंद्र सतह से 2.1 किलोमीटर की ऊंचाई पर था तो तभी इसका जमीनी स्टेशन से संपर्क टूट गया. डेटा का अध्ययन किया जा रहा है.

बाद में इसरो ने कहा कि डेटा का अध्ययन किया जा रहा है और निर्धारित संवाददाता सम्मेलन रद्द किया जाता है.

मालूम हो कि बीते 22 जुलाई को चंद्रमा के अनछुए पहलुओं का पता लगाने के लिए चंद्रयान-2 को आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र (एसडीएससी) से रवाना किया गया था.

ये भी पढ़ें:  भारत की एयर स्ट्राइक, पाकिस्तान स्थित आतंकी ठिकानों पर हवाई हमला, 300 से ज्यादा आतंकी ढेर

प्रक्षेपित करने के तकरीबन 16 मिनट बाद भूस्थैतिक प्रक्षेपण यान ‘जीएसएलवी-एमके III एम-1’ ने इसे सफलतापूर्वक पृथ्वी की कक्षा में स्थापित कर दिया था.

कुल 3,850 किलोग्राम वजनी यह अंतरिक्ष यान ऑर्बिटर, ‘विक्रम’ लैंडर और ‘प्रज्ञान’ रोवर के साथ गया है. चंद्रयान-2 चांद को चांद के दक्षिणी ध्रुव क्षेत्र में उतरना था.

पहले चंद्र मिशन की सफलता के 11 साल बाद इसरो ने भू-स्थैतिक प्रक्षेपण यान ‘जीएसएलवी-एमके III एम-1’  के जरिये 978 करोड़ रुपये की लागत से बने ‘चंद्रयान-2’ का प्रक्षेपण किया था.

स्वदेशी तकनीक से निर्मित चंद्रयान-2 में कुल 13 पेलोड हैं. आठ ऑर्बिटर में, तीन पेलोड ‘विक्रम’ लैंडर और दो पेलोड ‘प्रज्ञान’ रोवर में हैं.

‘विक्रम’ लैंडर का नाम भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान कार्यक्रम के जनक डॉ. विक्रम ए. साराभाई के नाम पर रखा गया है. दूसरी ओर, 27 किलोग्राम वजनी ‘प्रज्ञान’ का मतलब संस्कृत में ‘बुद्धिमता’ है.

चंद्रयान-2 को चंद्रमा की कक्षा में बीते 20 अगस्त को सफलतापूर्वक स्थापित किया गया था.

इससे 11 साल पहले 2008 में इसरो ने अपने पहले सफल चंद्र मिशन चंद्रयान-1 का प्रक्षेपण किया था जिसने चंद्रमा के 3,400 से अधिक चक्कर लगाए और यह 29 अगस्त, 2009 तक 312 दिन तक काम करता रहा था.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लैंडर का संपर्क टूट जाने के बाद इसरो के वैज्ञानिकों से कहा, ‘देश को आप पर गर्व है. सर्वश्रेष्ठ के लिए उम्मीद करें. हौसला रखें. जीवन में उतार-चढ़ाव आते रहते हैं. यह कोई छोटी उपलब्धि नहीं है.’

ये भी पढ़ें:  ब्लॉग: तुम हमें वोट दो, हम तुम्हें हिंदू-मुस्लिम डिबेट देंगे, यहीं तुम्हारी सरकारी नौकरी होगी?

मोदी चांद पर ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ का सीधा नजारा देखने के लिए यहां स्थित इसरो केंद्र पहुंचे थे. हालांकि, लैंडर से संपर्क टूट जाने के कारण ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ के बारे में कोई सूचना नहीं मिल पाई.

प्रधानमंत्री ने इसरो के वैज्ञानिकों से कहा कि देश को उन पर गर्व है और उन्हें हौसला रखना चाहिए. मोदी ने इसरो प्रमुख के. सिवन की पीठ भी थपथपाई.

मोदी ने बाद में एक ट्वीट में कहा, ‘भारत को अपने वैज्ञानिकों पर गर्व है. उन्होंने अपना सर्वश्रेष्ठ दिया है और भारत को हमेशा गौरवान्वित किया है. ये क्षण हौसला रखने के हैं और हम हौसला रखेंगे. इसरो अध्यक्ष ने चंद्रयान-2 पर अपडेट दिया. हमें उम्मीद है और हम अपने अंतरिक्ष कार्यक्रम में कठिन परिश्रम जारी रखेंगे.’

वहीं, ‘चंद्रयान-2’ के लैंडर ‘विक्रम’ का चांद पर उतरते समय जमीनी स्टेशन से संपर्क टूट जाने के बीच राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि देश को इसरो के वैज्ञानिकों पर गर्व है.

राष्ट्रपति ने ट्वीट किया, ‘चंद्रयान-2 मिशन के साथ इसरो की समूची टीम ने असाधारण प्रतिबद्धता और साहस का प्रदर्शन किया है. देश को इसरो पर गर्व है.’ उन्होंने कहा, ‘हम सभी सर्वश्रेष्ठ की उम्मीद करते हैं.’

ये भी पढ़ें:  मुंबई के एनकाउंटर स्पेशलिस्ट हिमांशु रॉय ने की खुदशुशी

वहीं, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री हर्षवर्धन तथा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल भी इसरो वैज्ञानिकों से कहा कि वे निराश न हों और उनकी उपलब्धियों पर देश को गर्व है.

इसके साथ ही कांग्रेस ने कहा कि देश इसरो के साथ खड़ा है और उसका प्रयास व्यर्थ नहीं जाएगा.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इसरो वैज्ञानिकों की सराहना करते हुए कहा कि उन्होंने मिशन पर बेहतरीन काम किया तथा कई और महत्वपूर्ण एवं महत्वाकांक्षी अंतरिक्ष मिशनों की नींव रखी है.

गांधी ने ट्वीट किया, ‘इसरो को ‘चंद्रयान-2’ मिशन पर उसके बेहतरीन कार्य के लिए बधाई. आपका भाव और समर्पण हर भारतीय के लिए एक प्रेरणा है. आपका काम व्यर्थ नहीं जाएगा. इसने कई और महत्वपूर्ण तथा महत्वाकांक्षी भारतीय अंतरिक्ष मिशनों की नींव रखी है.’

कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर कहा कि समूचा देश इस समय इसरो की टीम के साथ खड़ा है. अंतरिक्ष एजेंसी के कठिन परिश्रम और प्रतिबद्धता ने देश को गौरवान्वित किया है.

बता दें कि इससे पहले बीते 15 जुलाई को रॉकेट में तकनीकी खामी का पता चलने के बाद चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण टाल दिया गया था. रॉकेट की खामियां दूर करने के बाद 22 जुलाई को इसे चांद के लिए रवाना किया गया था.

अभी-अभी

रिपेयर: दिल्ली में बिजली कटौती को लेकर ‘आज तक’ का 6 साल पुराना वीडियो प्रसारित

दिल्ली में केजरीवाल सरकार ने दिल्लीवासियों के लिए पानी और बिजली फ़्री कर रखी है.

आप विधायक अमानतुल्ला ने नहीं कहा- इस्लाम पूरे भारत में जीत जाएगा, फ़र्ज़ी ट्वीट वायरल

आप विधायक अमानतुल्ला के एक कथित ट्वीट का स्क्रीनशॉट व्हाट्सएप पर वायरल हो रहा है.

क्या दिल्ली विधानसभा चुनाव में बीजेपी 36 सीटें 2000 वोटों के कम अंतर से हारीं? बीजेपी सांसद ने फ़र्ज़ी आँकड़ा शेयर किया

बीजेपी सांसद सत्यदेव पचौरी ने 12 फरवरी को ट्वीटर पर दावा किया कि उनकी पार्टी

राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर लगाया चील के बेरोज़गार होना का आरोप, फ़र्ज़ी वीडियो बनाकर शेयर किया गया

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा

उत्तर प्रदेश: आप विधायक अमानतुल्लाह खान के परिजनों को पुलिस ने बाल पकड़कर घसीटा, पुलिस ने नाकारा

उत्तर प्रदेश के मेरठ में अमानतुल्लाह खान के परिजनों और रिश्तेदारों की पुलिस द्वारा पिटाई

अमर उजाला समेत कई अख़बारों ने फ़र्ज़ी ख़बरों में दावा किया ‘आप’ की जीत के बाद शाहीन बाग़ में प्रदर्शन ख़त्म

दिल्ली में चुनाव नतीजों के दिन भारत के दैनिक अख़बार अमर उजाला ने एक रिपोर्ट

ऑस्कर-2020: पैरासाइट को मिला बेस्ट फिल्म का ऑस्कर, किस फ़िल्म, कलाकार को मिला कौन सा अवॉर्ड

दुनिया के सबसे प्रतिष्ठित फिल्म अवॉर्ड्स यानि 92वें ऑस्कर अवॉर्ड्स की शुरुआत हो चुकी है.

वायरल वीडियो में पाकिस्तान का झंडा नहीं बल्कि इस्लामिक झंडा, अराजकता फैलाने के लिए बनाया गया वीडियो

सोशल मीडिया पर एक वीडियो खूब वायरल हो रहा जिसमें दावा किया जा रहा है

आप नेता संजय सिंह ने वीडियो शेयर किया दावा, ईवीएम से की जा रही है छेड़छाड़

आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने शनिवार को दावा किया कि उन्हें सूचना

कोरोना वायरस चीन में क़हर जारी, अबतक 815 लोगों की मौत, 37 हज़ार से ज़्यादा पीड़ित

चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़ती ही जड़ा रही है. अब

फेसबुक पर हमें पसंद करें..