रिपेयर: राहुल गांधी ने इतिहास गलत नहीं बताया, कोका कोला के मालिक ने सड़क किनारे बेची है शिकंजी

दिल्ली के एक कार्यक्रम में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को कहा, “आप मुझे बताओ कि कोका-कोला कंपनी को किसने शुरू किया? कौन था ये? कोई जानता है? मैं आपको बताता हूं कि कौन थे? कोका-कोला कंपनी को शुरू करने वाला एक शिकंजी बेचने वाला व्यक्ति था.”

राहुल ने कहा “वो अमरीका में शिकंजी बेचता था. पानी में चीनी मिलाता था. उसके अनुभव, हुनर का आदर हुआ. पैसा मिला और कोका-कोला कंपनी बनी. “

इसके अलावा राहुल गांधी ने कहा “मैकडॉनल्ड कंपनी को किसने शुरू किया? कोई बता सकता है. वो ढाबा चलाता था. आप मुझे हिंदुस्तान में वो ढाबावाला दिखा दो, जिसने कोका-कोला कंपनी बना दी हो. कहां है वो?”

राहुल गांधी के इस बयान पर सोशल मीडिया पर लोगों ने खूब चुटकिया ली. वजह है राहुल गांधी का कोका-कोला कंपनी का बताया इतिहास और अपने बयान में कोका-कोला और मैकडॉनल्ड को मिक्स करना.

राहुल को इस बयान पर लोगों ने ट्विटर पर टैंड में ला दिया. सोमवार पूरा दिन हैशटेगअकोर्डिंगटूराहुल टॉप ट्रैंड में चला.

क्या सच में कोका कोला का मालिक शिकंजी बेचता था?

द न्यूज़ रिपेयर ने इस खब़र को रिपेयर करने के लिए उन सभी तथ्यों को खंगाला जिसमें कही लिखा हो कि कोका कोला का मालिक जॉन पेम्बर्टन शिकंजी बेचने वाला था. 

राहुल गांधी के बयान के बाद सोशल मीडिया से लेकर सभी न्यूज़ चैनल और बड़े मीडिया हाऊसों ने कहा कि पेम्बर्टन एक फार्मिस्ट थे. बीबीसी ने भी इस बारे में विस्तार लिखा है कि जॉन पेम्बर्टन एक फार्मिस्ट थे जिन्होंने कोका कोला की खोज की और कंपनी स्थापित की थी.

मीडिया रिपोर्ट का ये दावा सही है कि अटलांटा के जॉन पेम्बर्टन फार्मिस्ट थे. तो क्या राहुल गांधी जो कांग्रेस के अध्यक्ष है वो गलत है. हमने जब इस खबर को रिपेयर किया और इंटरनेट पर पेम्बनर्ट के जीवन परिचय को खंगाला तो सामने आया कि पेम्बर्टन का एक समय ऐसा आया था कि उन्हें फार्मिस्ट की दुकान के साथ सड़क पर शिकंजी (कोका) बेचनी पड़ी थी.  

successstory.com पर पेम्बर्टन के बारे में एक लेख में इस बात का जिक्र मिलता है. करियर ब्रेक में लिखा है कि “ कोका कोला को पहले पेम्बर्टन के फ्रांसीसी वाइन कोका के रूप में बेचा गया था. नाम से पता चलता है कि इसमें शराब शामिल थी. 1886 में कुछ देशों में शराब प्रतिबंधित थी. जिसके कारण उन्हें पानी में  वाइन मिला कर बेचनी पड़ी जिसके बाद इसका नाम “कोका कोला” रखा गया. 

famousinventors.org पर भी लिखा है कि 1865 में अमेरिकी गृह युद्ध के दौरान पेम्बर्टन को गंभीर चोट से गुजरना पड़ा जिसके बाद वे इलाज के लिए मॉर्फिन(अफीम) का इस्तेमाल करने लग गए थे. लेकिन एक रसायनज्ञ होने के नाते उन्होंने इलाज खोजने का फैसला किया.  उन्होंने एक फार्मूला बनाया जिसे फ्रेंच वाइन कोका का नाम दिया गया. इसमें कोका पत्तियों से अर्क शामिल था. कोका (कोकीन के उत्पाद में उपयोग किया जाता) पत्तियों के फार्मूले को बाद में हटा दिया गया था.  जिसके बाद कार्बोनेटेड वाटर को तैयार किया गया. जिसका स्वाद इतना अच्छा था कि इसे बाजार में पेय पदार्थ के रूप में उतारा गया. 

इस लेख में लिखा है कि पेम्बर्टन ने सड़क के किनारे  पांच सेंट में एक गिलास बेचना शुरू किया.  जिसके बाद उन्होंने विज्ञापन किए. शुरूआत में प्रतिदिन नौ गिलास बिकते थे और पूरे साल में सिर्फ 50 डॉलर ही कमाई हुई. 

इस लेख के अनुसार पेम्बर्ट ने एक साल तक सड़क के किनारे कोका कोला बेचा था.  यानी हो सकता है कि राहुल गांधी ने इस लेख के आधार पर ये कहा है कि कोका कोला का मालिक सड़क किनारे शिकंजी बेचा करता था. 

क्या मैकडॉनल्ड कंपनी का मालिक ढाबा चलाता था?

राहुल गांधी ने अपने संबोधन में ये भी दावा किया था कि मैकडॉनल्ड कंपनी का मालिक ढाबा चलता था. राहुल गांधी का ये दावा कुछ हद तक ठीक है. दरअसल मैकडॉनल्ड की ऑफिशयल वेबसाइट पर ही लिखा है कि रे क्रोक ने  पियानो खिलाड़ी, पेपर कप विक्रेता और मल्टीमिक्सर्स विक्रेता के रूप में काम किया था. 

1954 में सैन बर्नार्डिनो, कैलिफ़ोर्निया में एक रेस्तरां का दौरा किया जिसने कई मल्टीमीक्सर्स खरीदे थे.  वहां उन्होंने देखा कि दो भाई डिक और मैक मैकडॉनल्ड एक छोटा सा सफल रेस्तरां(ढाबा) चला रहे थे. उनका एक सीमित मेनू था जिसमें बर्गर, फ्राइज़ और पेय पदार्थ थे. वे अच्छी गुणवता और फास्ट सर्विस पर ध्यान देते थे. 

क्रोक एक नई फ्रेंचाईजी की तलाश में थे और उन्हें एक मौका मिला. उन्होंने 1955  में मैकडॉनल्ड्स सिस्टम, इंक, मैकडॉनल्ड्स कॉर्पोरेशन की स्थापना की, और छह साल बाद मैकडॉनल्ड्स के नाम और ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए विशेष अधिकार खरीदे. 

यानी शायद राहुल गांधी ने इस बयान में जो जिक्र किया वे उन दोनों भाईयों के लिए किया जो छोटा सा रेस्तरां(ढाबा) चलाते थे. क्योंकि मैकडॉनल्ड कंपनी की स्थापना रे क्रोक ने की है लेकिन उस रेस्तरां को खरीद कर. 

यहां राहुल गांधी दोनों में मामलों में सही है. क्योंकि कोका कोला के मालिक का जिक्र कुछ लेख में इस तरह से किया गया है कि वे सड़क किनारे पेय पदार्थ बेचते थे. वहीं मैकडॉनल्ड कंपनी बारे में उनकी ऑफिशियल वेबसाइट पर भी जानकारी दी गई है. यानी राहुल गांधी ने इन्ही आधार पर ये सब कहा होगा. 

ये भी पढ़ें:  रिपेयर: 40,000 आवारा कुत्तों को मारने से आई केरल में बाढ़ का जानिए पूरा सच

अभी-अभी

दिल्ली के रोहणी इलाके में लड़की का अपहरण कर गोली मारकर हत्या, जाँच में जुटी पुलिस

देश की राजधानी दिल्ली के रोहणी इलाके से एक लड़की का अपहरण करके गोली मारकर हत्या

दिल्ली की अनाज मंडी इलाक़े में लगी भीषण आग, 31 लोगों की मौत, 50 से ज़्यादा लोगों को बचाया गया

दिल्ली के रानी झांसी रोड पर रविवार सुबह अनाज मंडी में भीषण आग लग गई.

जेजेपी नेता अजय चौटाला का बड़ा बयान, कहा-नैना नहीं बनेगी मंत्री, इन विधायकों को बनाएंगे मंत्री

जेजेपी नेता अजय चौटाला ने कहा कि हरियाणा सरकार में उनकी पत्नी नैना चौटाला मंत्री

मारे गए आईएसआई सरगना अबू बकर अल बगदादी की बहन को तुर्की फौजों ने सीरिया में गिरफ्तार किया

आतंकी संगठन आईएसआईएस के प्रमुख अबू बक्र अल-बगदादी की बहन को तुर्की ने सोमवार को

दिल्ली में प्रदुषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्य सरकारों को लताड़ा, कहा-ऐसे वातावरण में कोई कैसे जीएगा

भारत में प्रदूषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने चिंता ज़ाहिर करते हुए मोदी सरकार और

हरियाणा में नए साल पहले लाखों सरकारी कर्मचारियों को सरकार का तोहफ़ा, इस भत्ते में की गई बढ़ोतरी

हरियाणा के लाखों सरकारी कर्मचारियों को नए साल से पहले बीजेजेपी सरकार ने तोहफा दिया

हरियाणा: करनाल में 5 साल की मासूम बच्ची 50 फ़ीट गहरे बोरवेल में गिरी, बचाव अभियान जारी

हरियाणा के करनाल में एक पांच साल की बच्ची खेलते हुए 50 फीट गहरे बोरवेल

हरियाणा में क़रीब 45000 विद्यार्थियों को मिलेगी वाहन सुविधा, जानिए क्या है यह योजना

हरियाणा में शिक्षा विभाग ने उन बच्चों को लेकर एक अहम कदम उठाया है जो

हरियाणा के इन ज़िलों में 4 और 5 नवंबर को स्कूल रहेंगे बंद, प्रदूषण का सबसे ज़्यादा असर पड़ रहा है बच्चों पर

दिल्ली एनसीआर में प्रदूषण के कारण एयर क्वॉलिटी बहुत खराब श्रेणी की पहुंच गई है.

जासूसी कांड पर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर लगाया आरोप, प्रियंका गांधी को भी मिला व्हाट्सएप मैसेज

व्हाट्सएप जासूसी कांड को लेकर कांग्रेस ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा है.

फेसबुक पर हमें पसंद करें..