सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम न्यायमूर्ति जोसेफ के नाम को दोहराने के लिए सहमत, 16 मई को अगली बैठक

नई दिल्ली: उत्तराखंड के मुख्य न्यायाधीश के एम जोसेफ को सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश के रूप में उभारा जाने की सिफारिश पर शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने सर्वसम्मति से सहमति जताई है. मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा और जस्टिस जे चेलेश्वर, रंजन गोगोई, एम बी लोकुर और कुरियन जोसेफ समेत कॉलेजिअम ने एक घंटे चली लंबी बैठक के बाद ये फैसला लिया है.

इसके अलावा, कोलेजीयम ने मुख्य न्यायालयों में उन्नयन के लिए अन्य न्यायाधीशों के नामों की सिफारिश करने का भी फैसला किया. 2 मई को, कोलेगियम ने कलकत्ता, राजस्थान, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के न्यायाधीशों की उन्नति के मामले पर “निष्पक्ष प्रतिनिधित्व की अवधारणा को ध्यान में रखते हुए” चर्चा की. अगली बैठक अब 16 मई को होगी.

ये भी पढ़ें:  धारा 370 हटाए जाने के बाद जम्मू में कई इलाकों में 2जी इंटरनेट सेवा बहाल की गई, कश्मीर में अभी भी फोन सेवाए बंद

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने कुछ दिन पहले न्यायमूर्ति जोसेफ को शीर्ष अदालत के न्यायाधीश के तौर पर पदोन्नत करने की सिफारिश कोलेजियम के पास पुनर्विचार के लिये वापस भेज दी थी.

इस बात का उल्लेख करना यहां प्रासंगिक होगा कि शीर्ष अदालत में सर्वाधिक वरिष्ठ न्यायाधीश न्यायमूर्ति जे चेलमेश्वर ने न्यायमूर्ति जोसेफ का नाम केंद्र के पास अविलंब भेजने के लिये प्रधान न्यायाधीश को गुरुवार को एक खत लिखकर कोलेजियम की बैठक बुलाने का अनुरोध किया था. सरकार ने 26 अप्रैल को न्यायमूर्ति के एम जोसेफ को सर्वोच्च न्यायालय के जज के तौर पर प्रोन्नत करने की कोलेजियम की सिफारिश पुनर्विचार के लिये लौटा दी थी.

सरकार ने तब कहा था कि प्रस्ताव सर्वोच्च अदालत के मानकों के अनुरूप नहीं है और उच्चतम न्यायालय में केरल का पर्याप्त प्रतिनिधित्व है जहां से वह आते हैं. सरकार ने सर्वोच्च अदालत के न्यायाधीश के तौर पर प्रोन्नति के लिये उनकी वरिष्ठता पर भी सवाल उठाए थे.

ये भी पढ़ें:  फीफा वर्ल्ड कप के फाइनल में राहुल गांधी को पुतिन का न्यौता वाली झूठी ख़बर सोशल मीडिया पर फैलाई गई 

उच्चतम न्यायालय के एक अधिकारी ने कहा कि बुधवार देर शाम प्रधान न्यायाधीश को भेजे अपने खत में न्यायमूर्ति चेलमेश्वर ने कहा कि वह न्यायमूर्ति जोसेफ को उच्चतम न्यायालय में प्रोन्नत किये जाने के अपने फैसले को दोहरा रहे हैं क्योंकि उन परिस्थितियों में कोई बदलाव नहीं आया है जब 10 जनवरी को कोलेजियम ने सरकार के पास उनके नाम की अनुशंसा की थी.

यह भी पता चला है कि कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद द्वारा प्रधान न्यायाधीश को लिखे खत में न्यायमूर्ति जोसेफ की पदोन्नति को लेकर उठाई गई आपत्तियों का न्यायमूर्ति चेलमेश्वर ने अपने पत्र में क्रमवार जवाब दिया है. न्यायमूर्ति चेलमेश्वर 22 जून को सेवानिवृत्त हो रहे हैं.

ये भी पढ़ें:  जननायक जनता पार्टी में इन दो और बड़े नेताओं की इंट्री, इन विधानसभाओं पर जेजेपी को दिला सकते हैं जीत 

प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा और न्यायमूर्ति चेलमेश्वर के अलावा कोलेजियम के अन्य सदस्यों में न्यायमूर्ति रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति एम बी लोकुर और न्यायमूर्ति कुरियन जोसेफ शामिल हैं.

न्यायमूर्ति कुरियन जोसेफ ने पिछले हफ्ते अपने केरल दौरे के दौरान कथित तौर पर यह स्पष्ट किया था कि वह उत्तराखंड उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के मुद्दे पर कोलेजियम की अनुशंसा दोहराने के पक्ष में हैं.

अभी-अभी

ईरान को डोनाल्ड ट्रंप की धमकी, कहा- ‘ईरान पर अब तक का सबसे भीषण हमला होगा, हम दुनिया में सबसे बेहतर’

अमेरिका के बीते शुक्रवार को बगदाद के अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर किए गए हवाई हमले में

अमित शाह और केजरीवाल में ट्वीटर वॉर, दिल्ली सीएम ने दिया मोहल्ला क्लीनिक देखने का न्योता

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर पलटवार किया

हरियाणा और महाराष्ट्र के बाद झारखंड में भी बीजेपी को बहुमत नहीं, ये है बड़े कारण

झारखंड मुक्ति मोर्चा और कांग्रेस-राष्ट्रीय जनता दल गठबंधन को झारखंड विधानसभा चुनाव में स्पष्ट जनादेश

नागरिकता संशोधन क़ानून: उत्तर प्रदेश में प्रदर्शनों के दौरान 16 में से 14 लोगों की मौत गोली लगने से हुई

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में सबसे ज़्यादा हिंसक प्रदर्शन उत्तर प्रदेश में देखने को

मीडिया ब्रेकडाउन: मीडिया उनके हाथों में है जिनका काम पत्रकारिता नहीं रहा

‘अगर मीडिया नहीं दिखाएगा तो हमें ही पूरे भारत को दिखाना होगा. इसे वायरल करो.’ इस

नागरिकता कानून पर बोले दुष्यंत चौटाला, ‘इस एक्ट से किसी हिन्दुस्तानी की नागरिकता नहीं होगी खत्म’

डिप्टी सीएम बनने के बाद पहली बार भिवानी पहुंचे. दुष्यंत चौटाला ने नागरिकता संशोधन एक्ट

हरियाणा के 8600 प्राइवेट स्कूलों पर खट्टर सरकार की सख़्ती, नहीं बढ़ा पाएंगे फीस, ये होगा नियम

अगर आपके बच्चे किसी भी निजी स्कूल में पढते हैं तो ये खबर आपकी जेब

सीएम मनोहर लाल ने ओवैसी को दी नसीहत, कहा- उन्हें अपने घर में तिरंगा लहराना चाहिए, आएगी सदबुद्धि

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और गृहमंत्री अनिल विज प्रभु प्रेमी आश्रम में जूना

दिल्ली के रोहणी इलाके में लड़की का अपहरण कर गोली मारकर हत्या, जाँच में जुटी पुलिस

देश की राजधानी दिल्ली के रोहणी इलाके से एक लड़की का अपहरण करके गोली मारकर हत्या

दिल्ली की अनाज मंडी इलाक़े में लगी भीषण आग, 31 लोगों की मौत, 50 से ज़्यादा लोगों को बचाया गया

दिल्ली के रानी झांसी रोड पर रविवार सुबह अनाज मंडी में भीषण आग लग गई.

फेसबुक पर हमें पसंद करें..