पीएम मोदी का झूठ बेनाकाब, पंडित नेहरू ने भगत से जेल में की थी मुलाकात

नई दिल्ली:  पीएम नरेंद्र मोदी कई बार अपनी रैलियों में झूठा इतिहास पेश कर चुके है. कर्नाटक चुनाव में हाल में पीएम मोदी ने एक चुनावी रैली में फिर से इतिहास के साथ छेड़छाड़ की है. पीएम मोदी ने कहा कि जब शहीद भगत सिंह, बटुकेशवर दत्त, वीर सावकर जैसे महान देशभक्त आज़ादी के लिए जेल गए तो कोई भी कांग्रेसी उनसे मिलने जेल नही गए. नौ मई को कर्नाटक के बिदर में चुनावी रैली के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेसी नेता सिर्फ भ्रष्ट लोगों को मिलने जाते थे.

इस रैली में पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि जब भगत सिंह और बीके सिंह जेल में तो कोई भी कांग्रेसी उनसे मिलना पंसद नहीं करते थे. वे इसके बजाए भ्रष्ट लोगों से सरोकार रखते थे. यहां पीएम मोदी का कांग्रेस से मतलब जवाहरलाल नेहरू था. 

कर्नाटक में 12 मई को चुनाव होने है लेकिन अपने चुनाव प्रचार के दौरान पीएम मोदी कई बार झूठा इतिहास पेश कर चुके है. इससे पहले पीएम मोदी ने एक सभा में कहा था कि जनरल थिमाय्या का 1948 में तत्काल प्रधान मंत्री जवाहर लाल नेहरू ने उनका अपमान किया था

ये भी पढ़ें:  जम्मू-कश्मीर के काकापोरा में आतंकियों का ग्रेनेड से हमला

क्या ये सच है कि कोई भी कांग्रेस नेता स्वतंत्राता सेनानियों से जेल नहीं मिलने गया?

भारत के प्रथम प्रधामंत्री जवाहर लाल नेहरू की आत्मकथाटोवार्ड फ्रीडममें लिखा है कि जब भगत को 1929 में लाहौर जेल में बंद किया गया था को पंडित जवारहलाल नेहरू ने उनसे मुलाकात की थी. नेहरू लिखते है कि भगत सिंह और बटुकेश्वर दत्त को अप्रैल 1929 में  केंद्रीय विधानसभा में बम फैकने के बाद गिरफ्तार किया गया.

आत्मकथा में लिखा है कि  मैं लाहौर में था जब क्रांतिकारी एक महीने से भूख हड़ताल पर बैठे थे. मुझे वहां उन्हें मिलने की इजाजत दी गई. मैने वहां भगत सिंह और जतिंद्रनाथ दास और देशभक्तों से मुलाकात की. वे भूख हड़ताल के चलते काफी कमजोर लग रहे थे और उनसे बात करना भी काफी मुश्किल था.’ 

उन्होंने लिखा हैभगत सिंह से मिलकर देखा कि वे काफी शांत और वे बिल्कुल ही गुस्से में नहीं थे. उन्हें देख कर लग रहा था कि वे विनमर्ता से के साथ उपवास कर रहे है.  वे अध्यात्मिक और सभ्य दिख रहे थे.  बटुकेश्वर दत्त एक युवा लड़की की तरह दुबले और आकर्षक दिख रहे थे. जब मैंने उन्हें देखा तो वे काफ़ी पीड़ा में थे.  भूख हड़ताल के चलते उनकी 60वें दिन मौत हो गई.’

ये भी पढ़ें:  लोकसभा चुनाव-2019: प्रधानमंत्री के खिलाफ चुनाव आयोग पहुंची कांग्रेस, हो सकती है कार्रवाई, जानिए क्या है पूरा मामला?

जब भगत सिंह और बटुकेश्वर दत्त से पंडित जवाहर लाल नेहरू ने लाहौर में मुलाकात की थी ये ख़बर अख़बार में छपी थी. ट्रिब्यून ने 9 अगस्त 1929 में इस ख़बर को छापा था.

ट्रिब्यून ने ख़बर में छापा था कि पंडित जवाहरलाल नेहरू, डॉ गोपी चंद और एमएलसी ने लाहौर सेंट्रल जेल और लाहौर की बोरस्टल जेल गए और लाहौर साजिश मामले में भूख हड़ताल पर बैठे क्रांतिकारियों से मिले. पंडित जवाहरलाल सबसे पहले सेंट्रल जेल गए जहां उन्होंने भगत सिंह और बीके दत्त से बातचीत की.  इन दोनों से मिलने के बाद वे बोरस्टल जेल गए जहां उन्होंने जतिन दास, अजय घोष और शिव वर्मा समेत कई भूख हड़ताल पर बैठे लोगों से मुलाकात की जो अस्पताल में झूठ बेल रहे थे. 

ट्रिब्यून ने 10 अगस्त 1929 को जवाहरलाल नेहरू के बयान को भी छापा जिसमें भूख हड़तालियों के बारे चिंता व्यक्त की गई थी. 

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्याल से सेवानिवृत्त प्रोफेसर चमन लाल कहते है कि भगत सिंह का कांग्रेस से लवहेट रिश्ता था. उन्होंने कहा कि भगत सिंह का परिवार का हिस्सा था. भगत सिंह के पिता एक कांग्रेसी कार्यकर्ता थे.  यहीं भगत सिंह अपने पिता के साथ कांग्रेस के सत्र में भाग ले चुके है. उन्होंने कहा कि इसमें कोई संदेह नहीं है कि भगत सिंह और कांग्रेस में काफी मतभेद थे लेकिन सच है कि पीएम मोदी का दावा सही नहीं है.

ये भी पढ़ें:  हरियाणा की जेलों में शिफ्ट किए जा रहे कश्मीर के 400 कैदी, 61 कैदियों को करनाल की जेल में शिफ्ट किया गया 

 

हालांकि ये सच है कि भगत सिंह की विचारधारा कांग्रेस के अनुरूप नहीं थी.  लेकिन ये सच है कि 1929 में पंडित जवाहरलाल भगत सिंह से जेल में मिले थे. इसलिए पीएम मोदी का ये दावा बिल्कूल झूठा है कि कांग्रेसी नेता स्वतंत्राता संग्राम के नायकों से नहीं मिलने गए थे. 

 

 

  

अभी-अभी

ईरान को डोनाल्ड ट्रंप की धमकी, कहा- ‘ईरान पर अब तक का सबसे भीषण हमला होगा, हम दुनिया में सबसे बेहतर’

अमेरिका के बीते शुक्रवार को बगदाद के अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर किए गए हवाई हमले में

अमित शाह और केजरीवाल में ट्वीटर वॉर, दिल्ली सीएम ने दिया मोहल्ला क्लीनिक देखने का न्योता

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर पलटवार किया

हरियाणा और महाराष्ट्र के बाद झारखंड में भी बीजेपी को बहुमत नहीं, ये है बड़े कारण

झारखंड मुक्ति मोर्चा और कांग्रेस-राष्ट्रीय जनता दल गठबंधन को झारखंड विधानसभा चुनाव में स्पष्ट जनादेश

नागरिकता संशोधन क़ानून: उत्तर प्रदेश में प्रदर्शनों के दौरान 16 में से 14 लोगों की मौत गोली लगने से हुई

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में सबसे ज़्यादा हिंसक प्रदर्शन उत्तर प्रदेश में देखने को

मीडिया ब्रेकडाउन: मीडिया उनके हाथों में है जिनका काम पत्रकारिता नहीं रहा

‘अगर मीडिया नहीं दिखाएगा तो हमें ही पूरे भारत को दिखाना होगा. इसे वायरल करो.’ इस

नागरिकता कानून पर बोले दुष्यंत चौटाला, ‘इस एक्ट से किसी हिन्दुस्तानी की नागरिकता नहीं होगी खत्म’

डिप्टी सीएम बनने के बाद पहली बार भिवानी पहुंचे. दुष्यंत चौटाला ने नागरिकता संशोधन एक्ट

हरियाणा के 8600 प्राइवेट स्कूलों पर खट्टर सरकार की सख़्ती, नहीं बढ़ा पाएंगे फीस, ये होगा नियम

अगर आपके बच्चे किसी भी निजी स्कूल में पढते हैं तो ये खबर आपकी जेब

सीएम मनोहर लाल ने ओवैसी को दी नसीहत, कहा- उन्हें अपने घर में तिरंगा लहराना चाहिए, आएगी सदबुद्धि

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और गृहमंत्री अनिल विज प्रभु प्रेमी आश्रम में जूना

दिल्ली के रोहणी इलाके में लड़की का अपहरण कर गोली मारकर हत्या, जाँच में जुटी पुलिस

देश की राजधानी दिल्ली के रोहणी इलाके से एक लड़की का अपहरण करके गोली मारकर हत्या

दिल्ली की अनाज मंडी इलाक़े में लगी भीषण आग, 31 लोगों की मौत, 50 से ज़्यादा लोगों को बचाया गया

दिल्ली के रानी झांसी रोड पर रविवार सुबह अनाज मंडी में भीषण आग लग गई.

फेसबुक पर हमें पसंद करें..