कर्नाटक चुनाव में व्यस्त मोदी सरकार, नहीं किया ‘कोवरी मुद्दे’ का मसौदा तैयार

नई दिल्ली : क्या होगा इस देश का जहां सरकार खुद लापरवाह हैं। दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने सरकार से कावेरी जल बंटवारे को लेकर मसौदा तैयार करने को कहा था। लेकिन ने अब सुप्रीम कोर्ट से इस मसले पर मसौदा तैयार करने के लिए और समय मांगा है। सरकार ने बुधवार को कोर्ट में कहा कि सरकार को इस मसले पर रणनीति बनाने के लिए अभी और समय की ज़रूरत है क्योंकि पीएम मोदी समेत सभी शीर्ष मंत्री मंडल अभी कर्नाटक के चुनाव प्रचार में व्यस्त हैं।

आप को बता दें कि सुप्रीम कोर्ट कावेरी जल बंटवारे के फ़ैसले की योजना ना बनाने पर पहले ही फ़टकार लगा चुका हैं। सरकार को कोर्ट ने तीन मई तक इस मामले में मसौदा तैयार करने का वक्त दिया था लेकिन सरकार आज तक इस पर कोई मसौदा तैयार नहीं कर पाई हैं। 

ये भी पढ़ें:  उत्तर प्रदेश: 190 क्विंटल आलू बेचने पर किसान को मिले 490 रुपये, दु:खी किसान ने पूरा पैसा पीएम को मनी ऑर्डर किया

सुप्रीम कोर्ट ने एक फिर सरकार से कहा है कि कोवेरी जल बंटवारे को लेकर मसौदा तैयार करना चाहिए क्य़ोंकि कि ये केंद्र सरकार की जिम्मेदारी है। दरअसल केंद्र सरकार अभी तक कर्नाटक से तमिलनाडू को पानी की कितनी मात्रा देनी है ये भी तय नहीं कर पाई हैं। वहीं तमिलनाडू ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया है कि मोदी सरकार ने इस मसले को गंभीरता से नहीं लिया हैं। 

ये भी पढ़ें:  यह पीएम मोदी का रोड शो नहीं बल्कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की शव यात्रा है

 

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक सरकार को भी चेताते हुए कहा कि अगर सरकार ने आदेशों का पालन नहीं किया तो गंभीर परिणाम भुगतने पर पड़ सकते है। कोर्ट ने कहा है कि तमिलनाडू को पानी देना चाहिए।

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने अपने फ़ैसले में कहा था कि केंद्र सरकार इस मसले को ज़ल्द ज़ल्द से सुलझाए। साथ ही कावेरी से तमिलनाडु को मिलने वाले 192 टीएमसी पानी को घटाकर 177.25 टीएमसी कर दिया गया था।

ये भी पढ़ें:  न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्स आतंकी हमले में 6 भारतीय लोगों की मौत, गुजरात के 4 और हैदराबाद के दो लोगों ने गंवाई जान

जनवरी में सुप्रीम कोर्ट ने कावेरी जल विवाद को निपटाने के लिए केंद्र सरकार को आदेश दिया था कि वह कावेरी नदी के पानी के प्रबंधन के लिए कावेरी मैनेजमेंट बोर्ड का गठन करे। कोर्ट के फ़ैसले के बावज़ूद केंद्र सरकार ने कावेरी मैनेजमेंट का बोर्ड का गठन नहीं किया। इसके लिए सरकार को तमिलनाडु के लोगों का काफी विरोध झेलना पड़ रहा है।

अभी-अभी

ईरान को डोनाल्ड ट्रंप की धमकी, कहा- ‘ईरान पर अब तक का सबसे भीषण हमला होगा, हम दुनिया में सबसे बेहतर’

अमेरिका के बीते शुक्रवार को बगदाद के अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर किए गए हवाई हमले में

अमित शाह और केजरीवाल में ट्वीटर वॉर, दिल्ली सीएम ने दिया मोहल्ला क्लीनिक देखने का न्योता

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर पलटवार किया

हरियाणा और महाराष्ट्र के बाद झारखंड में भी बीजेपी को बहुमत नहीं, ये है बड़े कारण

झारखंड मुक्ति मोर्चा और कांग्रेस-राष्ट्रीय जनता दल गठबंधन को झारखंड विधानसभा चुनाव में स्पष्ट जनादेश

नागरिकता संशोधन क़ानून: उत्तर प्रदेश में प्रदर्शनों के दौरान 16 में से 14 लोगों की मौत गोली लगने से हुई

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में सबसे ज़्यादा हिंसक प्रदर्शन उत्तर प्रदेश में देखने को

मीडिया ब्रेकडाउन: मीडिया उनके हाथों में है जिनका काम पत्रकारिता नहीं रहा

‘अगर मीडिया नहीं दिखाएगा तो हमें ही पूरे भारत को दिखाना होगा. इसे वायरल करो.’ इस

नागरिकता कानून पर बोले दुष्यंत चौटाला, ‘इस एक्ट से किसी हिन्दुस्तानी की नागरिकता नहीं होगी खत्म’

डिप्टी सीएम बनने के बाद पहली बार भिवानी पहुंचे. दुष्यंत चौटाला ने नागरिकता संशोधन एक्ट

हरियाणा के 8600 प्राइवेट स्कूलों पर खट्टर सरकार की सख़्ती, नहीं बढ़ा पाएंगे फीस, ये होगा नियम

अगर आपके बच्चे किसी भी निजी स्कूल में पढते हैं तो ये खबर आपकी जेब

सीएम मनोहर लाल ने ओवैसी को दी नसीहत, कहा- उन्हें अपने घर में तिरंगा लहराना चाहिए, आएगी सदबुद्धि

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और गृहमंत्री अनिल विज प्रभु प्रेमी आश्रम में जूना

दिल्ली के रोहणी इलाके में लड़की का अपहरण कर गोली मारकर हत्या, जाँच में जुटी पुलिस

देश की राजधानी दिल्ली के रोहणी इलाके से एक लड़की का अपहरण करके गोली मारकर हत्या

दिल्ली की अनाज मंडी इलाक़े में लगी भीषण आग, 31 लोगों की मौत, 50 से ज़्यादा लोगों को बचाया गया

दिल्ली के रानी झांसी रोड पर रविवार सुबह अनाज मंडी में भीषण आग लग गई.

फेसबुक पर हमें पसंद करें..